आपके रिश्ते के लिए जादुई साबित हो सकती है एक डेट

अगर आपकी शादी टूटने के कगार पर है, तो एक डेट आपके रिश्ते के लिए जादुई साबित हो सकती है। बेंगलुरु मेडिएशन सेंटर के काउंसेलर्स का कहना है कि जो कपल अपने रिश्ते के आखिरी पड़ाव पर होते हैं, वे अकसर डेट पर जाने के बाद अपना मन बदल लेते हैं। 25 साल की नीता और 30 साल के राहुल ने अपनी शादी के कुछ ही हफ्तों के बाद तलाक के लिए अर्जी दे दी। उनकी लव मैरिज टूटने के कगार पर थी।
नियम के अनुसार उन्हें पहले काउंसेलिंग के लिए बेंगलुरु मेडिएशन सेंटर भेजा गया। भागम-भाग वाली दिनचर्या, काम और ज्वॉइंट फैमिली की समस्याओं ने उनके रिश्ते को इस हाल में पहुंचा दिया था। काउंसेलर्स ने उन्हें कुछ वक्त एक-दूसरे के साथ बिताने की सलाह दी। एक डेट ने उनका रिश्ता टूटने से बचा लिया।
एक अन्य मामले में शादी के 6 महीने के बाद ही तलाक की अर्जी दी गई थी। इस बार भी काउंसेलर्स ने कपल को कुछ समय पार्क में बिताने की सलाह दी। दोनों ने एक-दूसरे से अपनी समस्याओं का जिक्र किया और अगले ही काउंसेलिंग सेशन में दोनों साथ रहने को राजी हो गए।
काउंसेलर्स के नए-नए तरीकों की वजह से सेंटर में कई मामलों में कपल साथ रहने को तैयार हुए हैं। बेंगलुरु मेडिएशन सेंटर के डायरेक्टर एम चंद्रशेखर रेड्डी का कहना है कि सेंटर में आने वाले मामलों में कपल समझौता करने के लिए तैयार नहीं होते हैं या फिर एक-दूसरे के साथ समय नहीं बिताते हैं। डेट पर जाने से वे अपनी समस्याओं को एक-दूसरे को बताते हैं और उनका हल ढूंढ लेते हैं। बेंगलुरु मेडिएशन सेंटर में हर रोज लगभग सौ जोड़ों की काउन्सेलिंग की जाती है।
-एजेंसी