पत्नी की विदाई न करने पर युवक ने ससुराल में आग लगाई, 7 लोग झुलसे

कानपुर। यूपी के कानपुर जिले में एक सिरफिरे युवक ने पत्नी की विदाई ना होने से नाराज होकर एक शख्स ने ससुराल में आग लगा दी। बताया जा रहा है कि ये युवक शुक्रवार सुबह 4 बजे ससुराल पहुंचा था। इस दौरान उसने ससुराल में रह रही अपनी पत्नी से साथ चलने की बात कही। इस बात के लिए जब पत्नी राजी नहीं हुई तो युवक ने घर पर पेट्रोल छिड़ककर इसमें आग लगा दी। इस घटना में 7 लोग झुलस गए। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने सभी को उर्सला अस्पताल में भर्ती कराया है। जिसमें तीन की हालत गंभीर बताई जा रही है।
जूही थाना क्षेत्र स्थित रत्तू पुरवा में रहने वाले हीरालाल प्राइवेट नौकरी करते है। हीरालाल ने तीन साल पहले अपनी बेटी मनीषा की शादी हरदोई निवासी मुकेश से की थी। मनीषा और मुकेश से एक माह का मासूम बच्चा है। मुकेश पत्नी मनीषा के साथ मारपीट और तरह-तरह से प्रताड़ित करता था। मनीषा बच्चे के साथ मायके में रह रही थी। मुकेश पत्नी को साथ ले जाने का दबाव बना रहा था। दामाद की हरकतों से परेशान होकर हीरालाल जूही थाने में मुकेश की शिकायत करने के लिए गए थे। पुलिस ने हीरालाल से कहा था कि यदि बेटी ससुराल जाना चाहती है तो भेज दो। यदि नहीं जाना चाहती है तो मत भेजिए।
सुबह चार बजे आया था मुकेश
हीरालाल के छोटे भाई कमलेश ने बताया कि उन्हें शुक्रवार सुबह चार बजे किसी के आने की आहट सुनाई पड़ी। जब कमलेश ने नीचे झांक कर देखा तो हीरालाल का दामाद मुकेश दरवाजे की बाहर गाली-गलौच कर रहा था। विवाद के बीच उसने दरवाजे और घर के चारो तरफ पेट्रोल छिड़का और फिर आग लगा दी। आग के बीच घर के लोगों ने किसी तरह शोर मचाकर पड़ोसियों को इकट्ठा किया। इस घटना में हीरालाल, उनकी पत्नी शिवकुमारी, बेटी मनीषा, राधा, वंदना, उमा और बेटा मनीष सभी गंभर रूप से झुलस गए है। सभी को उर्सला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
पुलिस टीमों ने शुरू की तलाश
एसपी साउथ दीपक भूकर के मुताबिक हरदोई के रहने वाले मुकेश की शादी मनीषा से हुई थी। दोनों के बीच परिवारिक विवाद चल रहा था। आज सुबह चार बजे मुकेश आया। घर पर सो रहे परिवारिक सदस्यों से दरवाजा खोलने के लिए कहा। जब दरवाजा नहीं खुला तो इसने गेट पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी। इसमें 6 लोग झुलसे है, जिसमें मनीषा के मासूम बच्चे को किसी तरह की चोटें नहीं आई है। मुकेश को अरेस्ट करने के लिए टीमों का गठन किया गया है।
-ऐजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *