यमुनोत्री रवाना हुई यमुना प्रदूषण मुक्ति जन अभियान यात्रा

मथुरा। यमुना प्रदूषण मुक्ति जन अभियान द्वारा आज सुबह 6 बजे विश्राम घाट एवं द्वारिकाधीश मंदिर पर सभा आयोजित करने के बाद विकास बाजार तक जुलूस निकाल कर यात्रा का प्रारंभ किया गया।

गौरतलब है कि यमुना प्रदूषण मुक्ति जन अभियान के तहत मथुरा से यमुनोत्री, तिलाड़ी शहीद स्थल, कालसी,लोहारी गांव, यमुनानगर,पानीपत, बागपत, दिल्ली,फरीदाबाद वृंदावन होते हुए मथुरा तक 6 दिवसीय यात्रा का आयोजन किया गया है।

महिला एकता मंच की सरस्वती एवं कौशल्या ने ‘पर्वत की चिट्ठी ले जाना’ जनगीत भी प्रस्तुत किया।

विश्राम घाट पर हुई सभा को संबोधित करते हुए उत्तराखंड से यात्रा में शामिल समाजवादी लोक मंच के संयोजक मुनीश कुमार ने मोदी सरकार के नमामि गंगे प्रोजेक्ट पर सवाल करते हुए कहा कि नमामि गंगे परियोजना के तहत यमुना को साफ करने के लिए 4 हजार करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं तथा पिछले 30 वर्षों में 6 प्रधानमंत्रियों ने ₹7000 करोड़ से भी अधिक यमुना की सफाई पर खर्च किए हैं। इस के बावजूद भी यमुना प्रदूषित होती जा रही है। यमुना का प्रदूषण सरकारों की अकर्मण्यता एवं लापरवाही का उदाहरण है।

अभियान के संयोजक सौरभ चतुर्वेदी ने कहा कि यह देश हमारा है। यहां की नदियां,पर्वत, पर्यावरण भी हमारा है और यदि सरकारें इन्हें संरक्षित नहीं कर पा रही हैं तो इसके लिए जनता को ही आगे आकर संघर्ष करना होगा। उन्होंने जनता से अभियान का सहयोग एवं समर्थन करने की अपील की।

जनवादी लेखक संघ के जिलाध्यक्ष टीकेन्द्र सिंह ‘शाद’ ने अभियान की सफलता हेतु शुभकामनाएँ देते हुए कहा कि यमुना प्रदूषण के खिलाफ यह अभियान निश्चित ही ऐतिहासिक साबित होगा।

कार्यक्रम में सरस्वती, कौशल्या, योगेश इंसान, राजेंद्र सिंह, उपेन्द्र नाथ चतुर्वेदी, मुनीश, विपिन, टिकेंद्र सिंह, कुलदीप आदि समेत दर्जनों लोग उपस्थित रहे।
-Legend News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *