सीएम योगी के ड्रीम प्रोजेक्ट को धरातल पर उतारने की दिशा में काम शुरू

नोएडा। यूपी में फिल्म सिटी की तस्वीर साफ होने लगी है। सीएम योगी के ड्रीम प्रोजेक्ट को धरातल पर उतारने की दिशा में काम शुरू हो गया है। हॉलिवुड की नामचीन कंपनी सीबीआरई ने फाइनल डीपीआर पेश कर दी है।
सबकुछ ठीक रहा तो यमुना अथॉरिटी एरिया में बनने वाली इस फिल्म सिटी में 2024 से लाइट, साउंड, कैमरा…ओके के साथ शूटिंग शुरू हो जाएगी।
यूपी में बनने वाली इंटरनेशनल फिल्म सिटी के लिए जिस तरफ सीबीआरई ने फाइनल डीपीआर में खाका खींचा है, वह अपने आप में दुनिया के बेहतरीन फिल्म सिटी में से एक का दर्जा दिलाने में मददगार साबित होगा।
फिल्म सिटी के साथ फिल्म इंस्टिट्यूट बनने से यूपी-बिहार की प्रतिभाओं को अब मुंबई जानने की जरूर नहीं होगी। फाइनल डीपीआर में इसको पीपीपी मॉडल पर विकसित करने के लिए तीन सुझाव दिए गए हैं। इसमें कौन सा प्रदेश सरकार चुनती है, यह आने वाले वक्त में पता चलेगा। यहां निर्माता व निर्देशक को फिल्म निर्माण से जुड़ी किसी भी चीज के लिए भटकने की जरूरत नहीं पड़ेगी।
60 रॉकिंग राइड्स और इंटरटेनमेंट पार्क भी
सीबीआरई ने फिल्म सिटी को 2029 तक तीन चरणों में विकसित करने का सुझाव दिया है। फिल्म सिटी का पहला चरण 2024 तक पूरा करने का समय तय किया गया है। प्रथम चरण में एक फिल्म स्टूडियो के साथ फिल्म इंस्टिट्यूट व एक्टिंग वर्कशाप का इनडोर व आउटडोर वर्कशॉप निर्माण होगा। इसके साथ 60 रॉकिंग राइड्स के मनोरंजन पार्क को भी विकसित कर दिया जाएगा।
600 कमरों का बनेगा भव्य होटल
रोमांच भरने वाले इस रॉकिंग राइडस के साथ 600 कमरों का एक भव्य होटल का भी निर्माण होगा। इसमें दो सितारा से लेकर पांच सितारा होटल के हिसाब से कमरे व सुविधाएं मिलेंगी। फिल्म सिटी को पहले चरण में 321 एकड़, दूसरे चरण 298 एकड़ और तीसरे चरण में 382 एकड़ जमीन पर विकसित की जाएगी।
अमेरिका, जापान, सिंगापुर से चर्चा के बाद बनी डीपीआर
यीडा में पेश किए गए फिल्म सिटी के फाइनल डीपीआर के लिए हॉलिवुड की नामचीन कंपनी सीबीआरई ने अमेरिका, जापान व सिंगापुर के प्रमुख फिल्म स्टूडियो में जाकर चर्चा की। मुंबई फिल्म सिटी, रामोजी फिल्म सिटी, महबूब स्टूडियो और कमाल अमरोही स्टूडियो के अधिकारियों के साथ बातचीत करके फीडबैक लिया। सीबीआरई के फाइनल डीपीआर में उन दर्शकों के बारे में विचार दिया गया है जो 2029 तक फिल्म सिटी में आएंगे। इनके लिए होटल और कमरों की संख्या, मनोरंजन पार्क की सुविधाएं मुहैया कराना प्राथमिकता में शामिल करते हुए इसका निर्माण करने का खाका खींचा गया।
तीन लाख लोग करेंगे फिल्म सिटी का पहले साल ही दौरा
सीबीआरई की तरफ से पेश फाइनल डीपीआर के अनुसार फिल्म सिटी के लांच होने के पहले साल ही तीन लाख लोगों के इसका दौरा करने की संभावना है। एक बार चालू होने के बाद फिल्म सिटी और मनोरंजन पार्क से ही 25,000 करोड़ रुपये का राजस्व आने की संभावना है। 2025 में 30,000 करोड़ से अधिक का राजस्व हो सकता है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *