द ऐक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर पर विवाद को लेकर अनुपम खेर ने राहुल गांधी से क्‍या कहा?

नई दिल्ली। द ऐक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर पर हो रहे राजनीतिक बवाल में अब अनुपम खेर भी कूद पड़े हैं। फिल्‍म में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का किरदार निभा रहे अनुपम खेर ने कहा है कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की बात करने वाले राहुल गांधी को अपने कार्यकर्ताओं को डांट लगानी चाहिए।
यह फिल्‍म पूर्व पीएम मनमोहन सिंह के मीडिया सलाहकार संजय बारू की किताब पर बनी है।
गुरुवार को फिल्म का ट्रेलर रिलीज होने के तुरंत बाद बीजेपी ने जहां इसे अपने सोशल मीडिया हैंडल्स से शेयर किया तो कांग्रेस ने इसे बीजेपी का प्रोपेगंडा बता डाला। यूथ कांग्रेस ने फिल्म रिलीज से पहले दिखाने की मांग की है और ऐसा नहीं होने पर इसे देश में कहीं भी रिलीज नहीं होने देने की धमकी दी है।
अनुपम खेर ने ट्रेलर के बाद उपजे विवाद पर टिप्पणी करते हुए कहा है कि हम तथ्यों को बदल नहीं सकते हैं। उन्होंने कहा, ‘किताब उस शख्स द्वारा लिखी गई जो उस समय पीएम के काफी करीब थे। या तो इस किताब को इग्नोर किया गया या लोग उस समय इसे भूल गए। ऐसे में अब यह बवाल क्यों?’
खेर ने एएनआई को एक इंटरव्यू देकर अपनी बात रखी है। अनुपम खेर ने कहा, ‘वे जितन प्रदर्शन करेंगे, फिल्म को उतना ही प्रचार देंगे। हाल ही में राहुल गांधी जी का ट्वीट पढ़ा था, जिसमें अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर उन्होंने बोला था।’
खेर ने कहा कि राहुल को फिल्म का विरोध कर रहे अपने लोगों को डांटना चाहिए कि वे गलत कर रहे हैं। खेर ने तंज कसते हुए कहा, ‘उनके (कांग्रेस) नेता पर फिल्म बनी है, उन्हें खुश होना चाहिए। आपको फिल्म देखने के लिए लोगों को भेजना चाहिए क्योंकि इसमें ‘मैं देश को बेचूंगा’? जैसे डायलॉग हैं जिनसे लगता है कि कितने महान हैं मनमोहन सिंह जी।’
फिल्म पर पूछे गए सवाल तो खामोश रहे मनमोहन
इस फिल्म को लेकर नई दिल्ली में कांग्रेस की स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से जब सवाल पूछा गया तो वह बिना कोई जवाब दिए आगे बढ़ गए। हालांकि, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पीएल पूनिया ने इसे लेकर बीजेपी पर निशाना साधा। पूनिया ने कहा, ‘द ऐक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर मूवी का ट्रेलर बीजेपी हैंडल से ट्वीट किया गया। यह बीजेपी का गेम है। वे (बीजेपी के नेता) जानते हैं कि पांच साल पूरे होने को हैं और उनके पास जनता को बताने के लिए कुछ भी नहीं है।’
फिल्म 11 जनवरी को रिलीज होनी है। गुरुवार को फिल्म का ट्रेलर रिलीज होने के बाद महाराष्ट्र यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष सत्यजीत तांबे पाटील ने फिल्म निर्माताओं को पत्र लिखा। इस पत्र में उन्होंने लिखा कि रिलीज के पहले फिल्म उन लोगों को दिखाई जाए। अगर फिल्म के कुछ सीन तथ्यात्मक रूप से गलत पाए गए तो उन्हें फिल्म से हटाना होगा। उन्होंने धमकी दी कि अगर उनकी मांग पूरी नहीं की गई तो इस फिल्म को देश में कहीं भी रिलीज नहीं होने दिया जाएगा और कोर्ट में मामला भी दाखिल करेंगे।
दूसरी ओर बीजेपी के ट्विटर हैंडल से फिल्म के ऑफिशल ट्रेलर के वीडियो को ट्वीट करने का केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने बचाव किया है। उन्होंने कांग्रेस पर ही सवाल दागा, ‘क्या हम किसी फिल्म को शुभकामनाएं भी नहीं दे सकते? कांग्रेस सबके लिए आजादी की बात करती है तो वह इस आजादी पर अब सवाल क्यों उठा रही है?’
सोनिया के रोल में हैं विदेशी कलाकार
‘द ऐक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ फ‍िल्‍म में अनुपम खेर ने पूर्व पीएम मनमोहन सिंह का किरदार निभाया है। अक्षय खन्ना संजय बारू की भूमिका में नजर आए हैं। पत्रकार संजय बारू 2004 से 2008 के बीच तत्कालीन प्रधानमंत्री के मीडिया सलाहकार थे और उन्हीं की किताब पर यह फिल्म बनी है। फ‍िल्‍म में सोन‍िया गांधी का किरदार विदेशी अभ‍िनेत्री सुजैन बर्नट ने निभाया है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *