webinar: पक्के इरादे वाले युवाओं को मिलती है सफलता

मथुरा। कोई हमारी तरक्की के मौके छीन सकता है, लेकिन हमारी काबलियत नहीं, इसलिए काबलियत को निखारें मौके खुद ब खुद मिल जायेंगे।
उक्त बातें विचारक किशोर स्वर्ण ने वेबिनार (ऑनलाइन सेमीनार) में उन युवाओं में उत्साह भरने के लिए कही जो कोरोनाकाल में नौकरी से वंचित हो गए।
उन्होंने युवाओं में जोश भरते हुए कहा कि अगर सपने हैं और इरादे भी हैं तो आप वहीं के वहीं क्यों हैं। मालिक बनो, जिम्मेदारी लो साहसी बनो, क्योंकि जिसको सफल होना है उसको जिम्मेदारी भी लेनी पड़ेगी।
तरक्की का सूत्र बताते हुए विचारक किशोर स्वर्ण ने कहा कि बड़ा आदमी बनने के लिए ठोकरें खानी पड़ती हैं और इसके लिए बड़ी मेहनत भी करनी पड़ती है। इसलिए अगर बड़े इरादे हैं तो सोच भी बड़ी करनी पड़ती है और इसके लिए चाहे छोटी हो लेकिन शुरुआत तो करनी पड़ती है।
उन्होंने कहा कि इस दुनियां में असम्भव कुछ भी नहीं। हम वह सब कर सकते हैं जो हम सोच सकते हैं। बस जरूरत है कि हम अपना सौ प्रतिशत देते रहे सफलता जरूर मिलेगी।
इस वेबिनार में राजस्थान, मध्यप्रदेश, गुजरात और उत्तर प्रदेश के लगभग 80 युवाओं ने भाग लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *