वेस्टइंडीज के खिलाफ आखिरी टी20 मैच में हिस्‍सा नहीं लेंगे विराट, बायो-बबल भी छोड़ा

भारतीय क्रिकेट टीम वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन मैच की टी20 सीरीज खेल रही है। सीरीज के तीनों मैच कोलकाता में खेले जा रहे हैं। भारत ने पहले मैच को 6 विकेट और दूसरे को 8 रन से अपने नाम किया था। इसके साथ ही टीम इंडिया ने सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त बना ली है। विराट कोहली ने दूसरे मैच में शानदार अर्धशतकीय पारी खेली थी। वेस्टइंडीज के भारत दौरे पर इससे पहले खेले सभी चार मैच में विराट का बल्ला शांत था।
अब रिपोर्ट्स की मानें तो विराट कोहली सीरीज के अंतिम मैच में हिस्सा नहीं लेंगे। उन्हें बीसीसीआई ने बायो-बबल ब्रेक दिया है। दिसंबर में दक्षिण अफ्रीका दौरे से विराट लगातार बायो-बबल में हैं। बोर्ड के अधिकारी ने कहा, ‘कोहली शनिवार सुबह घर के लिए निकल चुके हैं क्योंकि भारत पहले ही सीरीज जीत चुका है। जैसा कि बीसीसीआई द्वारा तय किया गया है, सभी फॉर्मेट में खेलने वाले खिलाड़ियों को बायो-बबल से नियमित समय पर ब्रेक दिया जाएगा जिससे यह सुनिश्चित हो सके कि उनके कार्यभार प्रबंधन और मानसिक स्वास्थ्य का ध्यान रखा जा रहा है।’
अब तीसरे मैच में कप्तान रोहित शर्मा बेंच पर बैठे युवा खिलाड़ियों को मौका दे सकते हैं। पहले दोनों मैच में टीम की प्लेइंग इलेवन में कोई बदलाव नहीं किया गया था। भारत और वेस्टइंडीज के बीच रविवार को सीरीज का तीसरा और आखिरी टी20 मुकाबला खेला जाएगा। इसके बाद श्रीलंका की टीम टी20 और टेस्ट सीरीज खेलने के लिए भारत आएगी। भारत-श्रीलंका के बीच 24 फरवरी से टी20 सीरीज की शुरुआत होगी।
विराट कोहली को श्रीलंका के खिलाफ टी20 सीरीज में भी आराम देने की तैयारी है, लेकिन वे टेस्ट सीरीज में खेलते नजर आएंगे। जल्द ही सीरीज के लिए टीम की घोषणा होने वाली है। 4 मार्च से मोहाली में भारत और श्रीलंका के बीच पहला टेस्ट होना है। यह विराट कोहली का 100वां टेस्ट भी होगा।
भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा ने विराट कोहली और भुवनेश्वर कुमार की तारीफ की।
विराट कोहली ने 41 गेंद पर 52 रन की पारी खेली। उनकी पारी ने भारत को शुरुआती मुश्किल से निकाला। रोहित ने कहा, ‘विराट ने बहुत अहम पारी खेली। जिस तरह उन्होंने अपनी पारी की शुरुआत की उसने मुझ पर से भी दबाव हटा दिया। हमने पहले दो ओवरों में अच्छी शुरुआत नहीं की थी लेकिन फिर वह आए और जिस तरह से उन्होंने शॉट खेलने शुरू किए वे आंखों को सुकून दे रहे थे।’
रोहित ने इसके अलावा अनुभवी पेसर भुवनेश्वर कुमार की भी तारीफ की। भुवनेश्वर कुमार ने अपने अनुभव का फायदा उठाया और वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों को विविधता से परेशान किया। रोहित ने कहा, ‘भुवी अच्छी यॉर्कर और बीच-बीच में बाउंसर फेंक रहे थे। हमें उनके टैलंट में पूरा यकीन है।’ भुवनेश्वर ने 19वें ओवर में बहुत कमाल की गेंदबाजी की।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *