कोहली के इस्‍तीफे से भारतीय क्रिकेट में भूचाल, हेड कोच की तलाश तेज

भारतीय क्रिकेट में इस वक्त भूचाल आया हुआ है। विराट कोहली ने टी-20 की कप्तानी से इस्तीफा क्या दिया। अचानक टीम इंडिया में भारी फेरबदल की सुगबुगाहट होने लगी। इसी कड़ी में हेड कोच की तलाश में तेज हो गई है। दरअसल, वर्ल्ड टी-20 के बाद रवि शास्त्री और उनके स्टाफ का कार्यकाल खत्म होने जा रहा है। बोर्ड इस कॉन्ट्रेक्ट को बढ़ाने के मूड में भी नहीं है। शायद यही वजह है कि अब टीम के नए कोच को लेकर कई दावेदारों के नाम सामने आ रहे हैं।
द्रविड़ के इंकार से तेज हुई तलाश
भारतीय क्रिकेट बोर्ड के मुखिया और पूर्व कप्तान सौरव गांगुली अपने पुराने टीम मेट्स को हेड कोच बनाना चाहते हैं। पहले राहुल द्रविड़ को मनाने की कोशिश की गई, लेकिन उनके साफ इंकार के बाद अब बोर्ड दो पूर्व दिग्गजों से बातचीत कर सकता है। समाचार एजेंसी पीटीआई की मानें तो महान लेग स्पिनर अनिल कुंबले और दिग्गज बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण को हेड कोच पद के लिए आवेदन करने को कहा जा सकता है।
कोहली से विवाद के बाद हटे थे कुंबले
कुंबले 2016-17 के बीच एक साल के लिए भारतीय टीम के कोच थे। उस समय सचिन तेंदुलकर, वीवीएस लक्ष्मण और खुद गांगुली की अध्यक्षता वाली क्रिकेट सलाहकार समति ने उन्हें शास्त्री की जगह नियुक्त किया था। हालांकि, कप्तान विराट कोहली के साथ अनबन के चलते कुंबले ने चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में पाकिस्तान से हारने के बाद अपना इस्तीफा दे दिया था।
फिलहाल दावेदारी तय नहीं
नाम न जाहिर करने की शर्त पर इस नए घटनाक्रम से परिचित बीसीसीआई के एक वरिष्ठ सूत्र ने बताया, ‘अनिल कुंबले के बाहर निकलने के प्रकरण में सुधार की आवश्यकता है। जिस तह से सीओए कोहली के दबाव में आकर उन्हें हटाया, वह सही उदाहरण नहीं था। हालांकि, यह इस बात पर भी निर्भर है कि क्या कुंबले और लक्ष्मण कोच के लिए आवेदन करने पर राजी होंगे।’
फिलहाल क्या कर रहे तीनों दावेदार
श्रीलंकाई दिग्गज बल्लेबाज और पूर्व कप्तान महेला जयवर्धने के नाम की भी चर्चा है मगर आईपीएल में मुंबई इंडियंस को अपनी कोचिंग में कई ट्रॉफी जीता चुके महेला श्रीलंका के कोच बनने की जुगत में हैं। ठीक वैसे ही अनिल कुंबले भी इस वक्त पंजाब किंग्स के डायरेक्टर ऑफ क्रिकेट ऑपरेशंस हैं। साथ ही साथ वह आईसीसी की क्रिकेट काउंसिल कमेटी के हेड हैं। लक्ष्मण भी आईपीएल फ्रैंचाइजी सनराइजर्स हैदराबाद के साथ जुड़े हुए हैं।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *