पीएम मोदी की पहल पर कोरोना को लेकर SAARC देशों की वीडियो कॉन्फ्रेंस कल संभव

नई दिल्‍ली। तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस की वैश्विक महामारी कोविड-19 से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से प्रस्तावित SAARC देशों का वीडियो कॉन्फ्रेंस कल यानी रविवार को हो सकती है।
समाचार एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि SAARC देशों के नेता रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोरोना वायरस के खतरे से निपटने के लिए रणनीति पर चर्चा करेंगे।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ही दक्षेस सदस्यों के वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए रणनीति पर चर्चा का प्रस्ताव दिया था, जिसका सभी सदस्य देशों ने स्वागत किया था।
कोरोना वायरस के चलते दुनिया भर में 5,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। भारत में इसके मरीज की संख्या 84 हो गई है, जिनमें दो मरने वाले भी शामिल हैं।
प्रधानमंत्री मोदी ने आठ सदस्यों के क्षेत्रीय समूह SAARC से शुक्रवार को संपर्क किया और दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन (दक्षेस) के नेताओं की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक कराने की राय दी ताकि कोरोना वायरस के प्रकोप से निपटने के लिए मजबूत रणनीति तैयार की जा सके।
पाकिस्तान ने पीएम मोदी के प्रस्ताव पर सराकारात्मक प्रतिक्रिया दी है और कहा है कि वह कॉन्फ्रेंस में हिस्सा लेने के लिए तैयार है। उसने माना कि घातक कोरोना वायरस के कारण उत्पन्न खतरे को कम करने के लिए समन्वित प्रयासों की जरूरत है। पाकिस्तान विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता आयशा सिद्दीकी ने शुक्रवार को एक ट्वीट में कहा, ‘हमने बता दिया है कि स्वास्थ्य पर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के विशेष सहायक जफर मिर्जा मुद्दे पर दक्षेस सदस्य देशों की वीडियो कॉन्फ्रेंस में हिस्सा लेने के लिए उपलब्ध रहेंगे।’
पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा था, ‘हमारी धरती कोविड-19 नोवल कोरोना वायरस से जंग लड़ रही है। विभिन्न स्तरों पर, सरकारें और लोग इससे निपटने की भरसक कोशिश कर रहे हैं। दक्षिण एशिया जहां विश्व की बड़ी आबादी रहती है, अपने लोगों के स्वास्थ्य को सुरक्षित रखने में कोई कसर नहीं छोड़ेगा।’
उन्होंने अन्य ट्वीट किया था, ‘मैं प्रस्ताव देना चाहता हूं कि दक्षेस देशों का नेतृत्व कोरोना वायरस से लड़ने के लिए मजबूत रणनीति बनाए। हम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए अपने नागरिकों को स्वस्थ रखने के तरीकों पर चर्चा कर सकते हैं। एक साथ मिलकर हम दुनिया के लिए उदाहरण पेश कर सकते हैं और धरती को स्वस्थ बनाने में योगदान दे सकते हैं।’
पीएम मोदी के सुझाव का दक्षेस के सभी सदस्य राष्ट्रों ने समर्थन किया है। समूह के सभी नेताओं ने प्रधानमंत्री के प्रस्ताव का स्वागत किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए एक संयुक्त रणनीति बनाने और विश्व के सामने एक उदाहरण रखने के उद्देश्य से दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन (दक्षेस) नेताओं की वीडियो कांफ्रेंस के जरिए चर्चा का शुक्रवार को प्रस्ताव दिया।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *