कोरोना के खिलाफ लड़ाई में वैक्सीनेशन अंतिम प्रहार: योगी आदित्‍यनाथ

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में वैक्सीनेशन अंतिम प्रहार है। इसके लिए देश के वैज्ञानिक और पीएम धन्यवाद के पात्र हैं। यह वैक्सीन दुनिया की सबसे सस्ती और सफलतम है जो निश्चित तौर पर कोरोना चेन के संक्रमण को तोडऩे में कामयाब होगी। सीएम शनिवार को बलरामपुर अस्पताल में टीकाकरण कार्यक्रम के बाद पत्रकारों से मुखातिब हुए। उन्होंने कहा कि बलरामपुर में 102 हेल्थ वर्कर्स को वैक्सीन लगाई जाएगी। अब तक जिन 15 लोगों को वैक्सीन की डोज दी गई है वह सभी स्वस्थ हैं।
इशारों में विपक्ष को भी घेरा
बिना नाम लिए उन्होंने इशारों में विपक्ष को भी घेरा। कहा कि जब देश कोरोना के खिलाफ इस जंग को अंतिम विजय की ओर ले जा रहा है। ऐसे में कुछ निहित स्वार्थी तत्व सक्रिय हैं। आगाह करते हुए उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों सतर्क रहने की आवश्यकता है। अपील करते हुए उन्होंने कहा कि इस वैक्सीनेशन कार्यक्रम को सकारात्मक भूमिका के साथ आगे ले जाएं। मीडिया, हेल्थ वर्कर्स और कोरोना वॉरियर की सकारात्मक भूमिका की उन्होंने सराहना की। सीएम ने कहा कि डीजी परिवार कल्याण राकेश दुबे, डीजी स्वास्थ्य डीएस नेगी समेत कई स्वास्थ्यकर्मियों ने इसे लगवाया है। यह सभी पूरी तरह स्वस्थ हैं। कोरोना के खिलाफ लड़ाई को आगे ले जाना है।
प्रथम चरण में हेल्थ वर्कर्स को 28 दिन बाद एक और डोज लेने होगी। इस दौरान सावधानी बरतनी होगी। कोरोना चेन के इस संक्रमण को तोड़ने में यह वैक्सीन काफी असरकारक साबित होगी। दूसरे फेज में कोरोना वॉरियर, पुलिसकर्मी, सुरक्षा से जुड़े जवान, डोर टू डोर डिलीवरी करने वालों को जोड़ा जाएगा। तीसरे चरण में पचास साल से नीचे के लोगों को इसे लगाया जाएगा। लोगों को अपनी बारी का इंतजार का इंतजार करना होगा और सभी को सकरात्मक सोच के साथ आगे बढ़ना होगा। स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने इसे कोरोना लड़ाई का पहला दिवस बताया। बलरामपुर अस्पताल में टीकाकरण कार्यक्रम की विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने बताया कि वैक्सीन लगवाए जाने का पहला दिवस है। इस केंद्र पर करीब सौ लोगों को वैक्सीन लगेगी। इनमें दोनों डीजी के साथ बलरामपुर चिकित्सालय के निदेशक डॉ. राजीव लोचन को भी वैक्सीन की डोज दी गई।
बलरामपुर अस्‍पताल में रक्षामंत्री व लखनऊ सीट से सांसद राजनाथ सिंह वैक्सीनेशन सेंटर का निरीक्षण करने पहुंचे। उन्होंने इस दौरान उन्‍होंने कहा कि देश में वैक्सीनेशन शुरू होना गौरव की बात है। इसके लिए उन्होंने देश के वैज्ञानिकों और प्रधानमंत्री मोदी के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि इंडिया में वैक्सीन लगना शुरू हो रही है और अब हम इसके बाद दूसरे देशों को भी अपनी वैक्सीन देने के लिए तैयार हैं। उन्होंने वैक्सीन देने के लिए अस्पताल में किए गए इंतजाम को भी बेहतर बताया।
पीएम के संबोधन के बाद सौ लोगों को बलरामपुर में दी गई वैक्सीन
पीएम नरेंद्र मोदी के संबोधन के बाद बलरामपुर चिकित्सालय में करीब सौ लोगों को वैक्सीन लगाई गई। सबसे पहले बलरामपुर की एसएसबी इंचार्ज गीता देवी को टीका लगाया गया। ललिता रॉय समेत कई स्वास्थ्यकर्मी और चिकित्सकों ने एक-एक कर वैक्सीन लगवाई और आब्जरवेशन कक्ष में चले गए। चिकित्सकों की निगरानी में करीब पौन घंटे रहे। इसके बाद उन्हें छुुट्टी दे दी गई।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *