KD हॉस्पिटल में मंत्रोच्चार के बीच हुआ वैक्सीनेशन का शुभारम्भ

मथुरा। कोरोना वायरस के खिलाफ वैक्सीनेशन का शुभारम्भ KD मेडिकल कॉलेज-हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर में आज वैदिक मंत्रोच्चारणों के साथ किया गया। पहला टीका कालेज के डीन डॉ. रामकुमार अशोका को लगाया गया। इस अवसर पर KD मेडिकल कॉलेज-हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर के प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल ने आह्वान किया कि डरें नहीं, सभी लोग कोरोना का टीका अवश्य लगवाएं ताकि इस महामारी पर विजय हासिल की जा सके। श्री अग्रवाल ने कहा कि टीका लगवाने के बाद भी सभी को पहले जैसी सावधानी बरतनी चाहिए। टीका लगवाने के बाद यदि किसी तरह की कोई परेशानी होती है तो चिकित्सकों से तुरंत सलाह लें।

मथुरा जनपद में शनिवार को कोरोना वायरस वैक्सीनेशन अभियान का शुभारम्भ किया गया। इसी कड़ी में KD मेडिकल कॉलेज-हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर में भी वैक्सीनेशन अभियान का शुभारम्भ हुआ।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सम्बोधन के बाद KD मेडिकल कॉलेज-हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर के प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल, डीन डॉ. रामकुमार अशोका, कोविड सेण्टर प्रमुख डाॅ. गौरव सिंह, डाॅ. अम्बरीश, विश्व स्वास्थ्य संगठन के विनीत कुमार, महेश कुमार आदि की मौजूदगी में चिकित्सा कर्मियों को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए टीके लगाए गए। पहला टीका कालेज के डीन डॉ. रामकुमार अशोका को लगाया गया। शनिवार को KD हॉस्पिटल में 100 चिकित्सकों, नर्सेज तथा पैरामेडिकल कर्मचारियों को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए टीके लगाए गए।

कोरोना का टीका लगवाने के बाद डॉ. रामकुमार अशोका ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए हर भारतीय को टीका अवश्य लगवाना चाहिए। पहला टीका लगवाने के बाद दूसरा टीका जरूर लगवाएं क्योंकि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए कोरोना वैक्सीन की दो डोज लगनी बहुत जरूरी हैं। पहली और दूसरी डोज के बीच लगभग एक महीने का अंतराल रखा गया है। दूसरा टीका लगते ही हमारे शरीर में कोरोना संक्रमण के विरुद्ध जरूरी शक्ति विकसित होना शुरू हो जाएगी।

डॉ. अशोका ने बताया कि इस वैक्सीन में एल-हिस्टिडिन, एल-हिस्टिडिन हाइड्रोक्लोराइड मोनोहाइड्रेट, मैग्नीशियम क्लोराइड हेक्जाहाइड्रेट,पॉलिसॉर्बेट 80, इथेनॉल, सुक्रोज, सोडियम क्लोराइड, डाइसोडियम एडिटेट डाइहाइड्रेट आदि द्रव्य मिले हुए हैं।

आर. के. एजुकेशन हब के अध्यक्ष डॉ. रामकिशोर अग्रवाल ने अपने संदेश में कोरोना वैक्सीन तैयार करने वाले वैज्ञानिकों का आभार मानते हुए कहा कि टीका लगने के बाद भी हम सभी को पहले जैसे ही सावधानी बरतनी होगी। कोरोना से बचाव के लिए हमें मास्क लगाने के साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का भी विशेष ध्यान रखना होगा। डा. अग्रवाल ने KD हास्पिटल के चिकित्सकों, नर्सेज तथा पैरा मेडिकल कर्मचारियों का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि पिछले लगभग एक साल में उन्होंने जिस बहादुरी के साथ कोरोना संक्रमितों की सेवा की वह अपने आप में प्रशंसनीय है।
– Legend News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *