देश में कोरोना के खिलाफ टीकाकरण शुरू, नतीजे काफी उत्‍साहवर्धक

नई दिल्‍ली। देश में 16 जनवरी से कोविड-19 वैक्‍सीन लगाने की शुरुआत हो गई है। वैक्‍सीन लगवाने से पहले लोगों में इसे लेकर बहुत सी आशंकाएं थीं। हालांकि, जानकारों ने उन सभी आशंकाओं का समाधान किया फिर भी लोग उन लोगों के अनुभवों को इंतजार कर रहे थे जिन्‍होंने पहले पहल कोराना वैक्‍सीन का टीका लगावाया। कुल मिलाकर सभी के अनुभव अच्‍छे और उत्‍साहवर्धक रहे।
दिल्‍ली के एम्‍स में मनीष कुमार नामके सफाई कर्मचारी को कोरोना वैक्‍सीन का पहला टीका लगाया गया। टीका लगवाने के आधे घंटे बाद तक नियमत: उनकी सेहत पर नजर रखी गई। टीका लगवाने के बाद उन्‍होंने कहा कि ‘मेरा अनुभव बहुत ही अच्छा रहा है, वैक्सीन लगने से मुझे कोई झिझक नहीं होगी और मैं अपने देश की और सेवा करता रहूंगा। लोगों को घबराने की कोई जरूरत नहीं है। मेरे मन में जो डर था वो भी निकल गया। सबको वैक्सीन लगवानी चाहिए।’
एम्‍स के डायरेक्‍टर बोले- सेफ है, असरदार है
एम्‍स के डायरेकटर रणदीप गुलेरिया ने भी कोरोना वैक्‍सीन का टीका लगवाया और कहा, ‘मैं सभी को आश्‍वस्‍त करना चाहूंगा कि वैक्‍सीन सुरक्षित है। यह कारगर है। हमें बहुत बड़ी संख्‍या में लोगों को वैक्‍सीन लगानी है इसलिए हम शुरू में बहुत चुनिंदा नहीं हो सकते। हमें अपने शोधकर्ताओं, वैज्ञानिकों और नियामक संस्‍थाओं पर भरोसा करना होगा।’
अक्षता को मिला ‘बर्थडे गिफ्ट’
इसी तरह महाराष्‍ट्र के कोल्‍हापुर में अक्षता चोरगे नामकी एक युवती को पहला टीका लगाया गया। खास बात यह है कि आज अक्षता का जन्मदिन भी है और जन्मदिन के मौके पर उसे उन्हें यह खास गिफ्ट मिला है। जिसे लेकर अक्षता काफी उत्साहित हैं।
अक्षता ने कहा, ‘मैंने वैक्सीन ली है। मुझे किसी भी प्रकार की तकलीफ नहीं है। वैक्सीन लेने के बाद भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना, मास्क पहनना और बार-बार हाथ धुलना- कोरोना को हराने के लिए इन 3 नियमों का पालन करना जरूरी है।’
कुछ को हुई हाई बीपी की शिकायत
राजस्‍थान के भरतपुर में भी चार जगहों पर कोविड-19 की वैक्‍सीन लगनी शुरू हुई। कुछ लोगों को वैक्‍सीन लगवाने के बाद हाई बीपी की शिकायत जरूर हुई।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *