उत्‍तरकाशी: गंगोत्री, हर्षिल आद‍ि पर्यटक स्‍थलों पर बर्फबारी

उत्तरकाशी। उत्तरकाशी के ऊपरी इलाकों में हुई बर्फबारी के बाद गंगोत्री धाम सहित हर्षिल और मोरी की सांकरी घाटी बेहद खूबसूरत लग रही है. बर्फबारी के बाद पर्यटक गंगोत्री धाम और हर्षिल घाटी का रुख कर रहे हैं. वहीं, गंगोत्री धाम में बर्फ के बीच गंगा नदी को बहता देख पर्यटक बेहद खुश हैं. पर्यटकों का कहना है कि बर्फ के बीच गंगोत्री धाम की अनुभूति अकल्पनीय है.

पर्यटक बर्फ देखकर खुश
हर्षिल और सांकरी क्षेत्र में बर्फबारी के बाद गिरा पाला सड़क पर जानलेवा साबित हो रहा है जिसको देखते हुए प्रशासन ने रात 8 बजे के बाद हर्षिल घाटी के लिए भटवाड़ी और सांकरी-हरकीदून घाटी के लिए सांकरी में बैरियर लगाकर पर्यटकों के वाहनों की आवाजाही पर रोक लगा दी है. शीतकालीन पर्यटन के क्षेत्र में कार्य कर रही वेयर ईगल डेयर के संयोजक तिलक सोनी के नेतृत्व में नोएडा से आए पर्यटक बर्फीली सड़क का रोमांच लेकर गंगोत्री धाम पहुंचे, जहां वे गंगोत्री घाटी की बर्फ देखकर अभिभूत नजर आए.

पर्यटक ले रहे बर्फबारी का आनंद
बर्फबारी के बाद पहाड़ों में खूबसूरती को देखते हुए रोमांच का अलग अनुभव होता है. इस अनुभव को जीवंत महसूस करने के लिए कई प्रदेशों के पर्यटक गंगोत्री की ओर रुख कर रहे हैं. इसके साथ ही बर्फ के बीच हर्षिल घाटी की खूबसूरती को देख पर्यटक गदगद हो रहे हैं.

रात 8 बजे से पर्यटकों के वाहनों की आवाजाही बंद
डीएम मयूर दीक्षित ने बताया कि हर्षिल घाटी सहित हरकीदून, केदारकांठा घाटी में सड़कों पर पाला गिरने के कारण आवाजाही में खतरा हो रहा है, जिसे देखते हुए हर्षिल घाटी के लिए भटवाड़ी और मोरी के सांकरी में पुलिस बैरियर लगाकर रात 8 बजे से पर्यटकों के वाहनों की आवाजाही बंद रहेगी. सुबह सड़क पर स्थिति को देखते हुए पर्यटकों को आगे जाने की अनुमति दी जाएगी. वहीं, स्थानीय लोगों के लिए कोई प्रतिबंध नहीं रहेगा.
– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *