उत्तर प्रदेश: हिंसा में लिप्‍त 987 उपद्रवी गिरफ्तार, 5312 हिरासत में

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर हिंसा में लिप्‍त उपद्रवियों के खिलाफ पुलिस ने कार्यवाही करते हुए अब तक 987 लोगों को अरेस्ट किया गया है।
सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट डालने के आरोप में भी 108 लोग गिरफ्तार किए गए हैं।
उत्तर प्रदेश पुलिस ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि 164 केस दर्ज हुए हैं जबकि हिंसा की वारदातों में शामिल 879 उपद्रवियों को गिरफ्तार किया गया है। 5312 लोगों को ऐहतियातन हिरासत में लिया गया है। हिंसक प्रदर्शन के दौरान 288 पुलिसकर्मी जख्मी हुए हैं, जिनमें से 61 को गोली लगी है।
पुलिस ने बताया कि सोशल मीडिया पर नागरिकता संशोधन कानून को लेकर आपत्तिजनक पोस्ट करने और लोगों को भड़काने के आरोप में 76 केस दर्ज हुए हैं और 108 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। 15 हजार 344 सोशल मीडिया पोस्ट्स के खिलाफ एक्शन लिया गया है।
इस बीच प्रदेश की राजधानी लखनऊ सहित कुछ अन्य जिलों में 24 दिसंबर तक के लिए स्कूल और कॉलेज बंद कर दिए गए हैं। बरेली, सहारनपुर और फिरोजाबाद में भी सभी शैक्षणिक संस्थानों को ठंड की वजह से मंगलवार तक बंद कर दिया गया है। मुजफ्फरनगर में यह अवधि बुधवार तक की है जबकि मेरठ में सोमवार तक के लिए।
एक्शन मोड में योगी सरकार
सीएए को लेकर भड़के हिंसक प्रदर्शनों के बाद से ही पुलिस एक्शन मोड में है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कोई भी दोषी बख्शा नहीं जाएगा। नुकसान की भरपाई के लिए उपद्रवियों के खिलाफ कार्यवाही भी शुरू हो गई है। यूपी पुलिस अलर्ट मोड पर है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *