अमेरिकी प्रशासन करेगा H1B Visa नियमों में बड़े बदलाव

वाशिंगटन। अमेरिकी प्रशासन ने H1B Visa देने के नियमों में बड़ा फेरबदल करने हेतु नए प्रस्तावों पेश किये हैं जिनके मुताबिक यह H1B Visa उन्हीं विदेशी नागरिकों को मिलेगा, जिन्होंने अमेरिकी शिक्षण संस्थानों से उच्च शिक्षा प्राप्त की हो या फिर उनको बहुत ज्यादा सैलरी दी गई हो।

गृह सुरक्षा विभाग ने आम जनता से मांगे विचार

अमेरिका के गृह सुरक्षा विभाग ने नए प्रस्तावों पर आम जनता से राय मांगी है। यह राय 3 दिसंबर से शुरू होकर के 2 जनवरी के बीच दी जा सकती है। अगर इन प्रस्तावों का अनुमोदन मिल जाता है तो अभी तक जिन नियमों के तहत विदेशी नागरिकों को H1B Visa मिलता था, उसमें काफी बदलाव आ जाएगा।

प्रतिभाशाली विदेशी नागरिकों के लिए उठाया कदम

अमेरिका के गृह सुरक्षा विभाग (डीएचएस) ने बुधवार को कहा कि अमेरिकी नागरिकता और आव्रजन सेवा इस संबंध में जनवरी 2019 तक नया प्रस्ताव लाने की योजना बना रही है। इसका उद्देश्य विशेष व्यवसाय की परिभाषा को संशोधित करना है ताकि एच1बी वीजा के माध्यम से बेहतर और प्रतिभाशाली विदेशी नागरिकों पर ध्यान केंद्रित किया जा सके।

डीएचएस ने कहा कि वह अमेरिकी कामगारों और उनके वेतन भत्तों के हितों को ध्यान में रखते हुए एच1बी वीजा के नियमों में संशोधन करेगा। अमेरिकी सरकार ने कहा कि एच-1बी वीजा धारकों को नियोक्ताओं से उचित वेतन सुनिश्चित करने के लिए गृह सुरक्षा विभाग और भी कदम उठाएगा।

एच4 वीजा में भी बदलाव

अमेरिका एच4 वीजा में उस नियम को खत्म करने की तैयारी कर रहा है, जिससे हजारों आव्रजक पेशेवरों के जीवन साथी अमेरिका में कार्य करने के पात्र हो जाते हैं। इस नियम को समाप्त करने से 70 हजार से अधिक एच4 वीजा धारक प्रभावित होंगे। यह वीजा एच1बी वीजा धारकों के पत्नी या पति को दिया जाता है। ओबामा प्रशासन ने 2015 में इसे शुरू किया था।

पिछले साल 60 हजार से भारतीयों को मिला ग्रीन कार्ड

अमेरिका में पिछले साल 60,394 भारतीयों को ग्रीन कार्ड मिले जबकि यहां स्थायी तौर पर रहकर काम करने की छूट देने वाली इस सुविधा के लिए छह लाख भारतीय इंतजार कर रहे थे। अप्रैल, 2018 के आंकड़ों के मुताबिक, 6,32,219 भारतीय प्रवासी, उनकी पत्नियां और बच्चे ग्रीन कार्ड मिलने का इंतजार कर रहे हैं।

पिछले साल जिन 60,394 भारतीयों को ग्रीन कार्ड मिले, उनमें से 23,569 लोगों को रोजगार के आधार पर ये कार्ड मिले। अमेरिका में ग्रीन कार्ड प्राप्त होने के बाद व्यक्ति स्थायी तौर पर यहां रह सकते हैं और काम कर सकते हैं।

वहीं 20,549 ग्रीन कार्ड भारतीयों के करीबी रिश्तेदारों (पत्नी, बच्चों, माता-पिता) को मिले। इसके अलावा 14,962 कार्ड परिवार से जुड़ी श्रेणी के लोगों को मिले। अमेरिका के गृह मंत्रालय की ओर से दो अक्तूबर को ये हालिया आंकड़े जारी किए गए। इसके मुताबिक ग्रीन कार्ड प्राप्त करने वाले भारतीयों की संख्या में मामूली कमी आई है।

-एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *