यूपी: बदला-बदला सा होगा विधानमंडल के मॉनसून सत्र का नजारा

लखनऊ। 20 अगस्त से शुरू हो रहे विधानमंडल के मॉनसून सत्र का नजारा बदला-बदला सा होगा। सत्र में सदस्यों के बैठने के स्थान से लेकर कई और बदलाव दिखेंगे। कोरोना काल में होने वाले इस तीन दिवसीय सत्र में विधायी कार्य सिर्फ दो दिन ही होंगे। इन दो दिनों में सरकार जहां दर्जन भर से ज्यादा विधेयक सदन में रखकर पारित करवाने की कोशिश करेगी वहीं विपक्ष बुलंदशहर, बागपत की घटनाओं के साथ प्रदेश की कानून-व्यवस्था को मुद्दा बना कर सरकार को घेरने का प्रयास करेगा।
यह विधेयक पेश होंगे
जो विधेयक सदन में रखे जाएंगे, उनमें करीब दस ऐसे विधेयक हैं जो पास नहीं हुए तो रद्द हो जाएंगे। इनमें प्रमुख रूप से उप्र आकस्मिकता निधि (संशोधन) विधेयक 2020, उप्र राजकोषीय उत्तरदायित्व एवं बजट प्रबंध (द्वितीय संशोधन) विधेयक 2020 के साथ श्रम विभाग के दो संशोधन विधेयक शामिल हैं। इसी के साथ मॉनसून सत्र में बढ़े खर्च का बजटीय प्रावधान करने के लिए अनुपूरक बजट भी पास करवाया जा सकता है।
विपक्ष के मुद्दे
सदन कम दिनों का होने की टीस विपक्ष में है लेकिन कम समय के बावजूद बागपत, बुलंदशहर, बिकरू कांड, बीजेपी विधायक की पुलिस द्वारा पिटाई जैसे मुद्दों पर सरकार की जवाबदेही तय करने की रणनीति तैयार हो रही है। कांग्रेस विधानमंडल दल की आराधना मिश्रा की मानें तो प्रदेश में सरकार के खिलाफ मुद्दों की भरमार है। इसके अलावा गन्ना किसान, कोरोना महामारी के दौरान लचर स्वास्थ्य सेवा, बाढ़, रोजगार जैसे मुद्दे प्रमुखता से उठेंगे। विपक्षी नेताओं का कहना है कि सत्र से पहले वह पार्टी विधायकों के साथ बैठक कर विरोध की रणनीति तैयार करेंगे।
ऐसा पहली बार हो सकता है
नेता सदन (सीएम) और संसदीय कार्यमंत्री अगल-बगल नहीं बैठेंगे
सत्र के दौरान विधानसभा की कैंटीन बंद होगी
विधायक एक-एक सीट छोड़ कर बैठेंगे
दीर्घाओं (ऊपर और नीचे) में दर्शक की जगह विधायक बैठेंगे
टंडन हॉल में विधायकों के अलावा सभी का प्रवेश वर्जित
टंडन हॉल में विधायकों-मंत्रियों के लिए चाय और काढ़े की व्यवस्था
मंडप में प्रवेश के दौरान गेट पर भीड़ न हो, इसके लिए सदन के दो और द्वार खोलने की तैयारी
विधानसभा के मुख्य गेट के साथ मंडप के प्रवेश गेटों पर स्कैनिंग और सैनिटाइजेशन की व्यवस्था
अध्यक्ष, सभी विधायक और मंत्री मास्क लगाए होंगे
कोशिश होगी कि विपक्ष वेल में न जुटे, वह अपनी सीटों से ही अपनी बात रखें
पूर्व विधायकों सहित अन्य सभी के विधानसभा पास स्थगित रहेंगे
मीडिया कवरेज में भी बदलाव की तैयारी
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *