ईरान में यूक्रेनी विमान मार गिराने की जांच अब UN के विशेषज्ञ करेंगे

संयुक्त राष्ट्र। संयुक्त राष्ट्र का विमानन प्रहरी संगठन ईरान में दुर्घटनाग्रस्त हुए यूक्रेनी विमान के मामले की जांच में अब सहयोग करेंगे। कीव जा रहा यूक्रेन का पीएस752 विमान पिछले सप्ताह तेहरान से उड़ान भरने के कुछ देर बाद ही दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस हादसे में चालक दल के सदस्य सहित 176 लोग मारे गए थे, जिनमें अधिकतर ईरानी और कनाडाई नागरिक थे।
ईरानी बलों ने दलती से विमान को बनाया निशाना
ईरान ने पिछले शनिवार को कहा था कि अपने जनरल कासिम सुलेमानी की हत्या का बदला लेने के लिए अमेरिकी वायुसेना अड्डों को निशाना बनाने के कुछ ही देर बाद उसने दुर्घटनावश यूक्रेन के विमान को निशाना बना दिया।
ईरान ने मंगलवार को घोषणा की थी कि यूक्रेन के एक विमान को मार गिराने के मामले में पहली गिरफ्तारी हुई है। ईरान ने यूक्रेन विमान दुर्घटना जांच में सहयोग के लिए संयुक्त राष्ट्र से मदद मांगी थी।
ICAO से सहयोग की मांग ईरान ने की स्वीकार
अंतर्राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन (आईसीएओ) ने एक बयान में कहा कि जांच में सहयोग की ईरान की मांग मान ली गई है। बयान में कहा गया कि आईसीएओ ने वरिष्ठ एवं विशेषज्ञ तकनीकी स्टाफ नियुक्त किया है, जो जांच में सलाहकार और पर्यवेक्षक की भूमिका निभाएंगे। संयुक्त राष्ट्र की एक विशेष एजेंसी आईसीएओ को 1944 में दुनिया भर में अंतर्राष्ट्रीय नागरिक विमानन के सुरक्षित और व्यवस्थित विकास को बढ़ावा देने के लिए स्थापित किया गया था।
आईसीएओ सभी सदस्य 193 देशों की करता है सहायता
आईसीएओ कनाडा के मॉन्ट्रियल में स्थित है। यह एजेंसी सुरक्षा, रक्षा, दक्षता, क्षमता और पर्यावरण संरक्षण जैसी कई अन्य प्राथमिकताओं सहित आवश्यक मानक एवं नियम निर्धारित करती है। आईसीएओ अपने 193 सदस्य देशों के साथ नागरिक उड्डयन के सभी क्षेत्रों में सहयोग के लिए कार्य करता है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *