उमा भारती ने विकास दुबे के एनकाउंटर पर यूपी पुलिस को बधाई दी

नई दिल्‍ली। बीजेपी की सीनियर लीडर और मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने गैंगस्टर विकास दुबे को मार गिराने के लिए यूपी पुलिस को बधाई दी है।
उन्होंने कहा कि भगवान महाकाल ने विकास दुबे का संहार कर दिया है, जिसने ईमानदार पुलिस अफसर देवेंद्र मिश्रा समेत 8 पुलिसकर्मियों की हत्याएं की थी।
उमा भारती ने ट्वीट कर यूपी पुलिस को बधाई तो दी ही, साथ ही विकास के उज्जैन तक पहुंचने पर सवाल भी उठाया।
विकास दुबे के उज्जैन पहुंचने पर सवाल उठाते हुए उमा ने लिखा, ‘अब तीन बातें रहस्य की परत में हैं-
(1) वह (विकास दुबे) उज्जैन तक कैसे पहुंचा?
(2) वह महाकाल परिसर में कितनी देर रहा?
(3) उसका चेहरा टीवी पर इतना दिखा कि उसे कोई भी पहचान लेता तो उसको पहचाने जाने में इतना समय कैसे लगा?’
8 पुलिसकर्मियों की बेरहमी से हत्या का आरोपी कानपुर का दुर्दांत अपराधी विकास दुबे एक दिन पहले ही उज्जैन स्थित महाकाल मंदिर से गिरफ्तार हुआ था। उसकी गिरफ्तारी पर सवाल भी उठे थे और विपक्षी दलों ने इसे सरेंडर करार दिया था। विपक्षी दलों ने मध्य प्रदेश के गृह मत्री नरोत्तम मिश्रा की भूमिका पर सवाल भी उठाया क्योंकि वह 2017 के यूपी विधानसभा चुनाव के दौरान बीजेपी की तरफ से कानपुर के प्रभारी रहे थे।
उमा ने विकास दुबे को राक्षस बताते हुए उसे मार गिराने के लिए यूपी पुलिस को बधाई दी।
उन्होंने ट्वीट किया, ‘ देवेंद्र मिश्र जैसे ईमानदार डीएसपी एवं उनके साथ 8 पुलिस अधिकारी एवं सिपाहियों की निर्मम हत्या करने वाले राक्षस विकास दुबे को मार गिराने के लिए यूपी पुलिस को बधाई, यूपी पुलिस की जय हो। अभी भी उसने भाग निकलने की चेष्टा की किंतु वह मार गिराया गया।’
उमा ने ट्वीट किया कि विकास दुबे उज्जैन कैसे पहुंचा, इसे लेकर वह एमपी के सीएम शिवराज सिंह चौहान और सूबे के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा से बात करेंगी।
उन्होंने लिखा, ‘मैं शिवराज सिंह चौहान जी से एवं गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा जी से इस विषय पर बात अवश्य करूंगी किंतु यह सच्चाई तो सामने आ गई कि भगवान महाकाल ने देवेंद्र मिश्र जैसे ईमानदार पुलिस अधिकारी के हत्यारे का संहार कर दिया।’
पिछले हफ्ते कानपुर में विकास दुबे को गिरफ्तार करने गई पुलिस टीम पर अपराधी और उसके गुर्गों ने हमला किया था। इसमें 8 पुलिसवाले शहीद हुए थे। उसके बाद से ही विकास दुबे को पुलिस तलाश कर रही थी। इस दौरान उसके 6 करीबी एनकाउंटर में मारे गए। गुरुवार को विकास को उज्जैन में गिरफ्तार किया गया। यूपी पुलिस उसे सड़क मार्ग से कानपुर लेकर आ रही थी। यूपी पुलिस का दावा है कि शुक्रवार सुबह कानपुर में विकास को लेकर जा रही गाड़ी पलट गई और उसके बाद विकास दुबे एक पुलिसवाले का पिस्टल लेकर भागने लगा। इस दौरान एनकाउंटर हुआ और वह पुलिस की जवाबी फायरिंग में ढेर हो गया।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *