कंगना मामले में उद्धव के प्रमुख सलाहकार अजॉय को राज्‍यपाल ने तलब किया

मुंबई। फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत के मुंबई स्थित ऑफिस पर बीएमसी की ओर से बुलडोजर चलाए जाने के बाद उद्धव ठाकरे सरकार की चारों तरफ आलोचना हो रही है। इस मामले में अब प्रदेश के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी की एंट्री हो गई है। उन्होंने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के प्रमुख सलाहकार अजॉय मेहता को तलब किया है। वहीं शिवसेना सांसद का कहना है कि इस कार्यवाही का पार्टी से कोई लेना-देना नहीं है। इसके अलावा मुख्यमंत्री के खिलाफ अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल करने पर कंगना के खिलाफ विक्रोली पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज की गई है।
कंगना मसले पर राज्यपाल कोश्यारी सक्रिय

इस मामले में राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी सक्रिय हो गए हैं और उन्होंने उद्धव ठाकरे के मुख्य सलाहकार अजॉय मेहता से चर्चा की। राज्यपाल ने कार्यवाही पर नाराजगी जताई है। अजॉय मेहता ने कहा कि वो सीएम उद्धव ठाकरे को जानकारी दे देंगे। वहीं राज्यपाल कोश्यारी इस विषय पर केंद्र को एक रिपोर्ट देने वाले हैं। गौरतलब है कि उद्धव ठाकरे के सीएम की कुर्सी पर बैठने के बाद से ही गवर्नर कोश्यारी और उनके रिश्ते बेहत तनावपूर्ण रहे हैं।
कंगना पर दर्ज हुआ मुकदमा
कंगना रनौत को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से पंगा लेना मंहगा पड़ता हुआ नजर आ रहा है। विक्रोली पुलिस स्टेशन में उनके खिलाफ शिकायत की गई है। शिकायतकर्ता का कहना है कि अभिनेत्री ने मुख्यमंत्री ठाकरे के खिलाफ अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल किया है। इसके बाद उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।

शिवसेना का नहीं है कोई लेना-देना: राउत

शिवसेना सांसद संजय राउत ने गुरुवार को मीडिया से बात करते हुए कहा, कंगना रनौत के कार्यालय पर कार्यवाही बीएमसी द्वारा की गई है। इसका शिवसेना से कोई संबंध नहीं है। आप इस पर मेयर या बीएमसी आयुक्त से बात कर सकते हैं।
मुंबई पुलिस आयुक्त ने शरद पवार के साथ की बैठक

वहीं, मुंबई पुलिस आयुक्त परम बीर सिंह ने आज एनसीपी प्रमुख शरद पवार से मुलाकात की। यह बैठक मुंबई के वाई बी चव्हाण केंद्र में करीब 20 मिनट तक चली। बैठक में किन बातों पर चर्चा हुई, उसकी जानकारी अभी नहीं मिल पाई है। यह बैठक ऐसे समय में हुई, जब हाल में कई दिग्गज नेताओं को धमकी भरे फोन कॉल आए हैं।

कंगना ने उद्धव पर साधा निशाना
कंगना रनौत ने गुरुवार को ट्वीट कर कहा कि “जिस विचारधारा पर श्री बाला साहेब ठाकरे ने शिवसेना का निर्माण किया था, आज वो सत्ता के लिए उसी विचारधारा को बेच कर शिवसेना से सोनिया सेना बन चुकी है। जिन गुंडों ने मेरे पीछे से मेरा घर तोड़ा, उनको सिविक बॉडी मत बोलो, संविधान का इतना बड़ा अपमान मत करो।”

इससे पहले कंगना रनौत ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि ‘तुम्हारे पिताजी के अच्छे कर्म तुम्हें दौलत तो दे सकते हैं मगर सम्मान तुम्हें खुद कमाना पड़ता है, मेरा मुंह बंद करोगे मगर मेरी आवाज मेरे बाद भी गूंजेगी, कितने मुंह बंद करोगे? कितनी आवाजें दबाओगे? कब तक सच्चाई से भागोगे तुम कुछ नहीं हो, सिर्फ वंशवाद का एक नमूना हो।’
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *