उद्धव सरकार ने मोदी सरकार से मांगा केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल

मुंबई। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के मामले थमने के नाम नहीं ले रहे हैं। प्रदेश में कोरोना मामलों की तादाद 14,781 तक पहुंच गई है। इस बीच महाराष्ट्र पुलिसकर्मी भी कोरोना की चपेट में आने लगे हैं। ईद की तारीख भी नजदीक है। ऐसे में उद्धव सरकार ने शांति, कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए केंद्र सरकार से मदद मांगी है।
प्रदेश के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने केंद्र सरकार को पत्र लिखकर राज्य की पुलिस की मदद के लिए 20 कंपनी केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) की मांग की है।
अनिल देशमुख ने कहा कि कोरोना महामारी और इसके प्रसार को रोकने के लिए किए गए लॉकडाउन का पालन कराने के लिए पुलिस दिनरात मेहनत कर रही है। पुलिस इन दिनों बेहद चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में काम कर रही हैं। अभी रमजान चल रहा है और ईद आने वाली है। हम नहीं चाहते हैं कि पुलिस काम के बोझ तले दबे और घबरा जाए इसलिए केंद्र से मदद मांगी गई है।
महाराष्ट्र पुलिस कोरोना की चपेट में
राज्य में पहले से ही केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की 32 कंपनियां तैनात हैं और वे महाराष्ट्र पुलिस के साथ मिलकर काम कर रही हैं। गृह मंत्री ने कहा, महाराष्ट्र के कई पुलिसकर्मी कोविड-19 की चपेट में आ चुके हैं। वे लगातार कोरोना पॉजिटिव हो रहे हैं। पुलिसवालों को आराम करने और फिर से ठीक होने के लिए समय की आवश्यकता है, जो उन्हें नहीं मिल पा रहा है।
ईद के दौरान कानून-व्यवस्था पर फोकस
गृहमंत्री ने कहा कि रमजान ईद है। इस दौरान हमें कानून और व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए और ज्यादा सुरक्षा की जरूरत है। हम उसे लेकर परेशान हैं इसलिए हमने केंद्र से पुलिस की मदद के लिए 20 सीएपीएफ कंपनियों को तत्काल तैनात करने के लिए कहा है।
कोरोना की चपेट में महाराष्ट्र पुलिस
अब तक के आंकड़ों पर गौर करें तो महाराष्ट्र पुलिस डिपार्टमेंट के 8 लोगों की कोरोना वायरस की वजह से मौत हो चुकी है। इसमें 5 पुलिसकर्मी मुंबई के हैं जबकि एक-एक पुणे, सोलापुर और नासिक ग्रामीण से हैं। महाराष्ट्र में कुल 1000 से ज्यादा पुलिसकर्मी इस महामारी से संक्रमित हैं। मुंबई पुलिस विभाग के 400 पुलिसकर्मी इस वायरस से संक्रमित हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *