दो सगी बहनों ने तीन तलाक के खिलाफ सीएम योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा

Two real sisters  wrote a letter to CM Yogi Adityanath against three divorces
दो सगी बहनों ने तीन तलाक के खिलाफ सीएम योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा

गाजियाबाद। लोनी के प्रेमनगर में रहने वाली दो सगी बहनों ने तीन तलाक के खिलाफ आवाज उठाते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है। साल 2010 में दोनों बहनों की शादी बागपत के बड़ौत के रहने वाले एक ही परिवार के दो सगे भाइयों से हुई थी जो सऊदी अरब में काम करते हैं। लगभग दो साल पहले दोनों के पतियों ने सऊदी से फोन और फैक्स के जरिए उन्हें तलाक दे दिया। दोनों बहनों को दहेज के लिए भी काफी प्रताड़ित किया गया था। अब दोनों बहनों ने सीएम योगी से मदद की गुहार लगाई है।
बताया जा रहा है कि बड़े भाई जफर (32) ने अपनी बीवी इमराना (29) को टेक्स्ट मेसेज भेजकर तलाक दे दिया, तो वहीं छोटे भाई दानिश (29) ने अपनी पत्नी मेहराना को फैक्स भेजकर तलाक दिया। दोनों बहनें तभी से अपनी पिता के घर पर रह रही हैं। दोनों ने अपने पिता शाहिद अहमद के साथ मिलकर सीएम योगी आदित्यनाथ को चिट्ठी लिखकर अपनी दास्तान बताई है और आरोप लगाया है कि उनके पतियों ने भारत लौटकर किसी और से निकाह कर लिया है।
पिता ने बताया कि 2012 में उन्होंने पुलिस में ससुराल वालों द्वारा दहेज के लिए उनकी बेटियों को यातनाएं दिए जाने की शिकायत भी दर्ज कराई थी।
उन्होंने कहा, ‘ शादी के समय जफर पहले से ही सऊदी अरब में काम करता था। वह शादी के लिए दो महीने की छुट्टी लेकर आया था। छुट्टियों के बाद वह सऊदी चला गया और फिर कभी लौट कर नहीं आया। दो साल बाद उसका छोटा भाई दानिश भी नौकरी के लिए सऊदी चला गया। मैंने दोनों बहनों को दहेज में काफी सामान दिया था, फिर भी मेरी बेटियों को दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाता था। 2012 में मैं अपनी दोनों बेटियों को अपने घर ले आया।’
शाहिद के मुताबिक उन्होंने ससुराल वालों के खिलाफ पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई थी। उन्होंने कहा, ‘पुलिस में शिकायत करने के बाद वे लोग यह झूठी अफवाह फैलाने लग गए कि मेरी बेटियों को तलाक दे दिया गया है। 2015 में जफर ने इमराना को फोन पर टेक्स्ट मेसेज भेजा जिसमें लिखा था तलाक, तलाक, तलाक। इसके कुछ ही दिनों बाद मेरी बेटियों के ससुर शफीक ने मुझे पुलिस स्टेशन में एक कागज दिखाया जिसे वह तलाक का दस्तावेज बता रहा था। उसका दावा था कि दानिश ने भी मेरी छोटी बेटी मेहराना को तलाक दे दिया है।’
दोनों बहनों ने दावा किया है कि उनके पति भारत लौट आए हैं और उन्होंने कहीं और निकाह कर लिया है। इमराना का 6 साल का एक बेटा है और मेहराना का 5 साल का।लोनी के सर्कल ऑफिसर श्रीकांत प्रजापति ने कहा, ‘प्रताड़ना और दहेज की मांग को लेकर एक एफआईआर दर्ज की गई है। आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट भी दायर की जा चुकी है। हालांकि IPC में फोन या फैक्स के जरिए तलाक देने के खिलाफ कार्यवाही का प्रावधान नहीं है।’
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *