200 रु. की अवैध वसूली में दो पुलिसकर्मी निलंबित, एक लाइन हाजिर

लखनऊ। ठाकुरगंज की रिंग रोड पुलिस चौकी पर तैनात हेड कांस्टेबल ने ईंट लदी ट्रैक्टर-ट्रॉली के चालक को धमका कर 200 रुपये वसूल लिए। रविवार सुबह सोशल मीडिया पर इसका वीडियो वायरल होने के बाद एसएसपी ने आरोपी हेड कांस्टेबल, चौकी इंचार्ज को निलम्बित व थानाध्यक्ष को लाइन हाजिर कर दिया। एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि रविवार को सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ। वीडियो में ठाकुरगंज की रिंग रोड चौकी पर तैनात एक सिपाही ईंट लदी ट्रैक्टर-ट्राली के चालक से 200 रुपये वसूली लेता दिखा। वीडियो में साफ नजर आ रहा था कि सिपाही ने पहले ट्रैक्टर-ट्राली को रुकवाया।
इसके बाद ट्रैक्टर सवार एक व्यक्ति ने सिपाही को 100 रुपये दिए पर सिपाही ने 200 रुपये से कम लेने से मना कर दिया। इसके बाद ट्रैक्टर चालक ने 200 रुपये निकाल कर सिपाही को दिए। तब जाकर सिपाही ने उसे गाड़ी समेत जाने दिया। वीडियो वायरल होने पर छानबीन कराई गई तो पता चला कि वसूली करने वाला पुलिस कर्मी ठाकुरगंज की रिंग रोड पुलिस चौकी में तैनात हेड कांस्टेबल मनिंदर यादव है। इस पर उन्होंने मनिंदर यादव और चौकी इंचार्ज विजय सिंह को निलम्बित कर दिया। ठाकुरगंज थाने के इंस्पेक्टर नीरज ओझा को लाइन हाजिर कर दिया।
मड़ियांव में भी सिपाही ने कराई थी फजीहत
पहले भी मड़ियांव थानाक्षेत्र में सिपाही ने ट्रैक्टर चालक से वसूली करके महकमे की फजीहत कराई थी। 30 सितम्बर को इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। जिसमें घैला पुलिस चौकी पर तैनात हेड कांस्टेबल योगेन्द्र कुमार ट्रैक्टर चालक से रुपये वसूलता नजर आया था। उक्त मामले में एसएसपी ने आरोपी हेड कांस्टेबल योगेन्द्र कुमार व घैला चौकी इंचार्ज धर्मेन्द्र सिंह चौहान को निलम्बित करते हुए इंस्पेक्टर मड़ियांव संतोष कुमार सिंह को लाइन हाजिर किया था।
फिर से जारी की गाइडलाइन
सिपाही की वसूली का वीडियो वायरल होने के बाद एसएसपी कलानिधि नैथानी ने जनपद के सभी थानों में तैनात पुलिस कर्मियों के लिए फिर गाइनलाइन जारी की है। उन्होंने मातहतों से पूरी ईमानदारी से कार्य करने के आदेश दिए है।
सिपाही ने दुकानदार से रिश्वत मांगी
पारा के मोहान रोड पर एक दुकान में प्लास्टिक के थैले मिलने पर एक सिपाही ने दुकानदार दीपक गुप्ता से 25 हजार रुपये की मांग की। रविवार देर रात इस मामले में दुकानदार की एक वीडियो वायरल हुई। इस मामले में पुलिस को कोई जानकारी नहीं है।
रहीमाबाद में पुलिस की शह पर वसूली
रहीमाबाद पुलिस चौकी पर तैनात चौकीदार पुलिस कर्मियों की शह पर वाहनों से वसूली कर रहा है। रविवार को एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें हाफ डाला रहीमाबाद से सण्डीला की ओर जाता दिखाई दिया। पुलिस चौकी के सामने पहुंचते ही डग्गामार वाहन के ड्राइवर ने चौकी से निकले एक शख्स को रुपये दिए और चलता बना। इसके बाद वह शख्स पुलिस चौकी के अंदर चला गया। वसूली के दो वीडियो वायरल हुए हैं। सीओ मलिहाबाद सैयद मोहम्मद कासिम आबिदी का कहना है कि वीडियो की जांच की जा रही है। दोषी पाए जाने पर सख्त कार्यवाही की जाएगी।
पुलिस कर्मी कराते हैं वसूली
लोगों का कहना है कि पुलिस चौकी पर सुबह से शाम तक वसूली की जाती है। चौकीदार दिन भर पुलिस चौकी में ही बैठा रहता है और यहां से गुजरने वाले वाहनों से वसूली करता है। चर्चा यह भी है कि पुलिस कर्मी खुद को बचाने के लिए चौकीदार से वसूली कराते हैं। जिससे पकड़े जाने पर उनके खिलाफ कार्यवाही न हो।
कंडक्टर ने रिश्वत मांगने का आरोप लगाया
दूसरी ओर रोडवेज संविदा कंडक्टर ने अपने अधिकारी पर घूस मांगने का आरोप लगाया है। इस संबंध में एक पत्र परिवहन निगम मुख्यालय को सौंपा है। फर्रुखाबाद डिपो में तैनात बस कंडक्टर केशव कुशवाहा ने आरोप लगाया है कि डिपो से ट्रांसफर के बाद कार्यमुक्त का आदेश देने के बदले उनसे दस हजार रुपये मांग गए। उन्होंने रुपये नहीं दिए तो उनकी संविदा समाप्त कर दी गई।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *