माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई के दौरान दो विदेशी पर्वतारोहियों की मौत

काठमांडू। नेपाल में माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई के दौरान दो विदेशी पर्वतारोहियों की मौत हो गई। इनमें एक स्विटजरलैंड का नागरिक 41 वर्षीय अब्दुल वराइच और दूसरा अमेरिकी 55 वर्षीय पुवेई ल्यू है। दोनों की ही मौत का कारण आक्सीजन की कमी के कारण थकावट होना बताया गया है। इन दोनों पर्वतारोहियों को बचाने के लिए अतिरिक्त सहायता भी भेजी गई थी।
पर्वतारोहण का आयोजन करने वाली कंपनी सेवन समिट ट्रैक्स के अनुसार स्विटरलैंड के रहने वाले वराइच की मौत उस समय हुई, जब वे एवरेस्ट पर फतह करने के बाद वापस लौट रहे थे। अमेरिकी पर्वतारोही ल्यू चोटी तक नहीं पहुंच पाए। एवरेस्ट पर 1953 में पहली बार एडमंड हिलेरी और तेनजिंग नॉरगे पहुंचे थे। उसके बाद अब तक छह हजार पर्वतारोही यहां पहुंच चुके हैं। एवरेस्ट अभियान में शामिल लोगों में अब तक 311 की मौत हो चुकी है। पिछले साल कोरोना वायरस संक्रमण के कारण फैली महामारी के कारण बंद होने के बाद इस साल अप्रैल्-मई में चढ़ाई को लेकर नेपाल ने इस बार पर्वतारोहण के लिए 408 परमिट के लिए जारी किए थे।
आयोजक चांग दावा ने जानकारी दी कि यह इस साल का पहला हादसा है। उन्होंने बताया, ‘अब्दुल चोटी तक पहुंच गए लेकिन वापसी में उन्हें कठिनाई का सामना करना पड़ा। हमने दो अतिरिक्त शेरपा ऑक्सीजन व भोजन के साथ भेजे लेकिन उन्हें बचाया न जा सका।’ वहीं अमेरिकी पुवेई की मौत एवरेस्ट पर बने सबसे अधिक ऊंचाई वाले कैंप पर हुई। वे हिलेरी स्टेप तक पहुंच गए थे लेकिन उसके बाद ही उन्हें दिक्कत होने लगी। टीम मेंबर की सहायता उन्हें मिली लेकिन बुधवार को उनका निधन हो गया। अभी इस बारे में जानकारी नहीं दी गई है कि उन्हें नीचे कब तक लाया जा सकेगा।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *