Twinkle Sharma हत्याकांड: इंस्पेक्टर समेत पांच निलंबित, SIT को जांच

अलीगढ़। तालानगरी के टप्पल क्षेत्र में ढाई वर्ष की बच्ची Twinkle Sharma की जघन्य हत्या का घटनाक्रम सुनकर हर किसी का दिल दहल जाता है। ढाई साल की बच्ची Twinkle Sharma की क्रूरता से हत्या हुई। शव को कपड़े की पोटली में लपेटकर फेंका गया, जो गल गया। उसका हाथ अलग मिला। मामले में सोशल मीडिया पर गुस्सा दिख रहा है। क्रिकेट और बॉलीवुड के जाने-माने सितारे भी लगातार ट्वीट से अपना दर्द और गुस्सा जता रहे हैैं। कुछ सितारों ने दुष्कर्म को लेकर भी प्रतिक्रिया दी है, हालांकि पुलिस के बाद पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी दुष्कर्म की बात से इन्कार कर चुकी है। टप्पल हत्याकांड को लेकर ट्विटर पर चार हैशटैग ट्रेंड हो रहे हैैं। बड़ी संख्या में लोग ट्वीट कर रहे हैैं।

टप्पल के चर्चित मासूम टिंकल हत्याकांड में पुलिस लापरवाही उजागर हुई है। इसके चलते एसएसपी ने तीन दिन पहले लाइन हाजिर किए गए निवर्तमान इंस्पेक्टर केपी सिंह चहल सहित पांच पुलिसकर्मियों को गुरुवार देर रात निलंबित कर दिया।

निवर्तमान कर्मियों में थाने के तीन दरोगा व एक सिपाही शामिल हैं। इन पर गुमशुदगी देरी से लिखने के अलावा, बच्ची की खोज में और हत्या होने पर आरोपियों की गिरफ्तारी में लापरवाही का आरोप है। पुलिस प्रवक्ता के अनुसार नितर्वमान इंस्पेक्टर टप्पल कुशलपाल सिंह चहल, थाने के तीन सब इंस्पेक्टर सत्यवीर सिंह, अरविंद कुमार, शमीम अहमद व सिपाही राहुल यादव को निलंबित किया गया है।
इन पांचों पर क्रमवार यह आरोप हैं कि पहले तो बच्ची 30 मई को गायब हुई और परिजन थाने गए तो इन्होंने 31 मई को गुमशुदगी क्यों दर्ज की। उसी दिन क्यों नहीं, इसके अलावा बच्ची को खोजने और हत्या की जानकारी होने के बाद आरोपियों को खोजने में भी लापरवाही की गई और पुलिस टीम में समन्वय का भी अभाव दिखा।

एसएसपी, अलीगढ़ आकाश कुलहरि ने बताया कि हम इस मामले को फास्ट ट्रैक अदालत में ले जाने का प्रयास करेंगे। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दुष्कर्म या एसिड का कोई जिक्र नहीं है। इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है और पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है।

जांच के लिए एसआईटी गठित

अलीगढ़ के टप्पल में ढाई साल की बच्ची Twinkle Sharma की नृशंस हत्या के मामले की जांच के लिए स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) का गठन किया गया है। एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) आनंद कुमार ने बताया कि एसपी ग्रामीण के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया है। एक एक्सपर्ट, फॉरेंसिक टीम और  स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) की टीम भी जांच टीम का हिस्सा होगी जो फास्ट ट्रैक कोर्ट के बेस पर जांच करेगी। एसपी देहात मणिलाल पाटीदार के नेतृत्व में सीओ खैर पंकज श्रीवास्तव के पर्यवेक्षन में 4 विवेचक करेंगे जांच। तीन  सप्ताह में एसआईटी अपनी रिपोर्ट देगी ।

10 हजार के कर्ज के लिए निर्ममता से मासूम की हत्या

यूपी के अलीगढ़ से इंसानियत को शर्मसार करने वाली एक ऐसी घटना इस समय पूरे देश में चर्चा का विषय बनी हुई है जो हर किसी को झकझोर रही है। क्या आम लोग और क्या नेता-अभिनेता… सभी एक स्वर में इस घटना की निंदा कर रहे हैं। मामला मात्र 10 हजार रुपए के कर्ज के लिए ढाई साल की मासूम टिंकल की हत्या का है। चंद रुपये के लिए मासूम को अगवा कर लिया गया और बाद में उसकी बेरहमी से हत्या कर दी गई। बच्ची का शव कुछ ऐसी हालत में मिला कि पोस्टमॉर्टम करने वाले डॉक्टर भी समझ नहीं पाए कि पोस्टमॉर्टम करें तो कैसे।

30 जून को घर के बाहर से हुई गायब
अलीगढ़ के थाना टप्पल इलाके में ढाई साल की बच्ची का शव मिलने से दो जून को सनसनी फैल गई। मामले का खुलासा हुआ तो पता चला कि यह शव टिंकल, पुत्री बनबारी लाल शर्मा का है। वह 30 मई को घर के बाहर से खेलती हुई लापता हो गई थी। 31 मई को टिंकल की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई। उसके बाद पुलिस को 2 जून की सुबह शव जेल गए आरोपी जाहिद के घर के पास मिला था। कूड़े के ढेर में उसका शव सफाई कर्मचारी को दिखाई दिया। जैसे ही बच्ची का शव सफाईकर्मी को दिखा उसने पुलिस के पास जाकर मामले की जानकारी दी। जिसके बाद एसएसपी आकाश कुलहरि और विधायक खैर अनूप प्रधान मौके पर पहुंचे।

परिजनों के साथ सैकड़ों की संख्या में लोगों ने पीछा कर शव लेकर जा रही गाड़ी को कुराना के पास रुकवा लिया। इसके बाद शव टप्पल थाने के सामने रख दिया और अलीगढ़-पलवल मार्ग पर जाम लगा दिया। बड़ी संख्या में मौजूद लोगों ने थाने का घेराव कर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की और टप्पल एसओ को निलंबित करने की मांग की। यह लोग आरोपी जाहिद और उसके पूरे परिवार को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे थे। ब्लाक प्रमुख के पति ऋषिपाल सिंह मैनेजर, डॉ. चंद्रप्रकाश पांचाल व कर्मवीर सिंह भाजपा नेता भी लोगों के साथ धरने पर बैठे रहे।
-एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *