कोरोना का भय दिखाकर वोटिंग को प्रभावित करने की कोशिश: खामनेई

तेहरान। ईरान में कोरोना वायरस के संक्रमण के बीच चुनाव कराए गए। देश के सर्वोच्च धार्मिक नेता अयातुल्लाह अली खामनेई ने रविवार को विदेशी मीडिया पर कोरोना वायरस का डर दिखाकर देश के आम चुनाव में जनता को वोटिंग से हतोत्साहित करने की कोशिश का आरोप लगाया।
खामनेई ने कहा, ‘यह नकारात्मक प्रचार कुछ महीनों पहले शुरू हुआ और चुनाव नजदीक आते-आते बड़ा हो गया। एक वायरस और उसकी बीमारी के संदर्भ में पिछले दो दिनों के भीतर उनकी मीडिया ने जनता को मतदान से हतोत्साहित करने का छोटे से छोटा अवसर भी नहीं छोड़ा।’
उधर, मतगणना के शुरुआती रुझान में रुढ़िवादी बढ़त बनाते दिख रहे हैं।
खामनेई की वेबसाइट के मुताबिक ‘यहां तक कि हमारे दुश्मन ईरान के लोगों द्वारा आयोजत किसी भी चुनाव का विरोध करते हैं।’ देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले सामने आने के दो दिन बाद ईरान में संसदीय चुनाव के लिए शुक्रवार को मतदान हुआ था। आम चुनाव में पहले ही कम मतदान की आशंका जताई जा रही थी। इस बीच, खामनेई ने लोगों से देश के हित में आगे आकर अधिक से अधिक मतदान करने की अपील की थी।
मध्य-पूर्व देश ईरान में अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 8 हो गई है और 43 मामले सामने आए हैं। सरकार ने निवारक उपाय के तहत देशभर के सभी 14 प्रांतों में रविवार से स्कूल, यूनिवर्सिटी सहित अन्य शिक्षण संस्थानों को बंद रखने का आदेश दिया।
अधिकारियों ने रविवार को बताया कि मेट्रो स्टेशनों में पानी के फव्वारे और खाने-पीने की दुकानें बंद रखने का आदेश दिया गया है। कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव अभियान के तहत इस बड़े शहर में जगह-जगह पोस्टर चस्पा कर लोगों से हाथ नहीं मिलाने की अपील की गई है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *