अमेठी में राहुल गांधी पर ट्रिपल अटैक: भाजपा ने मांगा तीन पीढ़ियों का हिसाब

अमेठी। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर मंगलवार को उनके संसदीय क्षेत्र अमेठी से बीजेपी ने ट्रिपल अटैक किया। खुद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, सूचना प्रसारण मंत्री स्मृति इरानी और यूपी के सीएम आदित्यनाथ योगी ने राहुल को ‘घर’ में घेरा और तीखा हमला बोला। शाह ने कहा कि मोदी से तीन साल का हिसाब मांगने वाले राहुल गांधी को अमेठी में अपनी तीन पीढ़ियों का हिसाब देना चाहिए। वहीं स्मृति इरानी कहा कि राहुल के पास अमेठी की जनता के लिए वक्त नहीं है। अमेठी में जो भी विकास कार्य हुआ है, वह बीजेपी के कारण हुआ है। योगी ने राहुल पर तंज कसते हुए कहा कि उन्हें अमेठी नहीं, इटली की याद आती है।
बीजेपी अध्यक्ष ने राहुल गांधी को निशाने पर लेते हुए कहा, ‘आप मोदी जी से पूछते हो कि 3 साल में आपने क्या किया। अमेठी की जनता आपसे तीन पीढ़ियों की हिसाब मांग रही है। आप इतने साल तक यहां के सासंद रहे यहां कलेक्टर का ऑफिस, टीबी अस्पताल, एफएम स्टेशन क्यों नहीं बना? किसानों की जमीन का नदी में कटाव क्यों नहीं रोका गया? गरीबों का बैंक अकाउंट मोदी जी खोल रहे हैं, घर-घर बिजली पहुंचा रहे हैं। आपके परनाना, परनानी, नानी, पिता जी और माता जी सभी सत्ता में रहे। अब यह सब काम मोदी जी को क्यों करना पड़ रहा है? गुजरात की जनता तो गुजरात का सच जानती है आप अमेठी का आकर देखिए इसका बंटाधार क्यों हुआ। ‘
गिनने लगे 106 योजनाओं के नाम
राहुल गांधी द्वारा मोदी के कामकाज पर सवाल उठाए जाने का जवाब देते हुए अमित शाह ने कहा, ‘राहुल हमेशा पूछते हैं कि मोदी जी ने क्या किया, मैं आपको बताना चाहता हूं। मोदी जी की सरकार ने गरीबों, किसानों, आदिवासियों और युवाओं के लिए 106 योजनाएं बनाईं। मैं उसकी सूची लेकर आया हूं। 106 योजनाएं पढ़ नहीं सकते, लेकिन आपने कहा है हिसाब देने के लिए। मैं योजनाओं का नाम पढ़ता हूं आपको लगे मोदी जी अच्छा काम कर रहे हैं तो ताली बजाकर रोक देना।’ प्रधानमंत्री जनधन योजना से शुरू करते हुए अमित शाह तेजी से योजनाओं का नाम पढ़ने लगे…कुछ नामों के बाद लोग ताली बजाने लगे। इस पर अमित शाह बोले, ‘अभी तो सिर्फ 12 हुई हैं।’ उन्होंने अमेठी में स्मृति के काम की तारीफ करते हुए कहा, ‘पहली बार देख रहा हूं कि विजेता प्रत्याशी क्षेत्र में कभी ना जाए और हारी हुई प्रत्याशी इतना काम कर रही है।’
‘बोलने वाला पीएम दिया’
बीजेपी अध्यक्ष ने कहा, ‘हमने एक बोलने वाला प्रधानमंत्री दिया। आपने ऐसा प्रधानमंत्री दिया कि जिसको सुनने के लिए जनता तरसती थी। छह महीने आपके घर की तरफ देखते रहते थे। आपका इशारा नहीं होता था और वे बोलते ही नहीं थे।’ उन्होंने कहा कि कांग्रेस शासन में आतंकी हमलों का माकूल जवाब नहीं दिया जाता था, लेकिन मोदी सरकार में उड़ी हमला हुआ तो 10 दिन के भीतर पाकिस्तान के अंदर घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक हुआ। अमित शाह ने कहा, ‘यह सब राहुल गांधी को नहीं दिखता है क्योंकि उनका चश्मा इटालियन है।’ अमित शाह ने यह भी भरोसा जताया कि 2019 में अमेठी में भी परिवर्तन होगा।
बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि देश में विकास के दो मॉडल हैं- एक गांधी-नेहरू परिवार का मॉडल और दूसरा मोदी मॉडल। यूपी को पांच साल में विकसित बनाने का वादा करते हुए अमित शाह ने कहा, ‘गुजरात में हर गांव में 24 घंटे बिजली आती है। हर घर को पानी मिलता है। हर तहशील में अच्छा स्वास्थ्य केंद्र है। अब यहां योगी जी की सरकार भी ऐसा ही विकास करेगी। अगली बार जब हम यहां वोट मांगने आएंगे तो यूपी को गुजरात को विकसित राज्य बनाकर आएंगे।’
मैं अमेठी की दीदी बन गई: स्मृति
स्मृति इरानी ने कहा, ‘मैं अमेठी में बीजेपी की प्रतिनिधि बन कर आई और यहां के लोगों की दीदी बन गई। तीन साल पीपड़ी गांव के लोगों ने मेरा बहिष्कार कर दिया था। आज जब हमने पूछा तो उन्होंने कहा हम बार-बार सांसद के पास जाते रहे लेकिन वे नहीं मिले इसलिए हम 2014 लोकसभा चुनाव का बहिष्कार कर रहे हैं। हमारे खेत की जमीन काटकर नदी में जा रही है। मैंने कहा भले ही राहुल जी के पास समय नहीं हो हम आपके साथ समय देंगे।’
‘विकास पर भाषण देने वाले ने अपने क्षेत्र का विकास नहीं किया’
2014 में लोकसभा चुनाव में अमेठी से बीजेपी उम्मीदवार स्मृति इरानी ने कहा कि अब यहां राहुल गांधी का जनाधार नहीं बचा। उन्होंने कहा, ‘मुखिया जी ने मुझसे कहा बेटी बहुत विश्वास कर लिया कांग्रेस का लेकिन अब आशीर्वाद देंगे वोट नहीं। वादे के मुताबिक चुनाव के बाद हम लौटे। तब अखिलेश जी की सरकार थी। हमने केंद्र सरकार की ओर से अखिलेश जी को निवेदन भेजा लेकिन उन्होंने समय नहीं दिया। जो आज विकास पर देशभर में भाषण देते हैं वे अपने ही क्षेत्र में विकास नहीं करा पाते।’
बीजेपी सरकार ने कोई भेदभाव नहीं किया
अमेठी के विकास के लिए बीजेपी सरकार ने कोई भेदभाव नहीं किया, इस पर जोर देते हुए स्मृति ने कहा, ‘यह लोकतंत्र की ताकत है कि विधानसभा चुनाव में बीजेपी की सरकार बनी। हमने केवल एक बार जाकर आग्रह किया कि इस कटान की समस्या से 50 हजार लोग प्रभावित होंगे। 7 साल में जो काम नहीं हुआ वह 6 महीने में योगी जी ने कर दिखाया। यूपी सरकार ने 15 करोड़ रुपये की मुहैया कराई है।’
स्मृति ने कांग्रेस पर जमीन हड़पने का आरोप लगाते हुए कहा, ‘यह सम्राट साइकल के लिए आवंटित जमीन है। अमेठी के लोगों ने फैक्ट्री के लिए जमीन दी थी। जब यहां फैक्ट्री बंद हुई तो पहली बार यह देश को पता चला कि एक राजीव गांधी फाउंडेशन ने इस जमीन को ले लिया। राहुल का कब्जा जमीन से हटाया जाए। किसानों पर भाषण देने वाले राहुल ने किसानों की जमीन नहीं लौटाई है।’
इटली की याद आती है, अमेठी की नहीं: योगी
उत्तर प्रदेश के सीएम ने भी राहुल गांधी पर खूब जुबानी तीर चलाए। उन्होंने कहा, ‘उन्हें इटली की याद तो आती थी लेकिन अमेठी की याद नहीं आती थी। पहली बार उन्हें देखने का आपको सौभाग्य स्मृति जी के कारण ही मिला होगा। स्मृति जी ने एक महीने पहले ही यहां का कार्यक्रम बनाया था। इस बीच हमने देखा कि दिल्ली के एक शहजादे भी अमेठी आ रहे हैं। स्मृति जी के बहाने इन्हें अमेठी की याद तो आई। इनके अंदर भारत के प्रति प्रेम नहीं।’
योगी ने कहा, ‘राजीव गांधी फाउंडेशन के नाम पर जो किसानों की जमीनों को हड़पने की साजिश है उसे हम सफल नहीं होने देंगे। कहीं दामाद जमीन हड़पता है कहीं बेटा। लेकिन यूपी में हम ऐसा नहीं होने। आखिर कांग्रस 55-60 वर्ष तक यहां क्या करती रही। आखिर यह फाउंडेशन किस काम में लगा है। इसमें सरकार हजारों करोड़ खर्च करती थी, लेकिन पैसा जाता कहां था।’ इसके साथ योगी ने यूपी सरकार के कामकाज भी गिनाए और कहा कि 37 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की गई। धान क्रय की व्यवस्था भी कर दी है। बिचौलिया प्रथा बंद कर दी है इसका मलतब कांग्रेस का रोजगार बंद हो जाना है। कांग्रेस ने बिचौलियेपन को जन्म दिया।
-एजेंसी