टोक्यो ओलिंपिक: पुरुष हॉकी टीम ने टॉप टीम जापान को 5-3 से हराया

भारतीय पुरुष हॉकी टीम का जलवा टोक्यो ओलिंपिक में जारी रहा। उसने पूल के आखिरी मुकाबले में अपने ग्रुप की टॉप टीम जापान को 5-3 से हरा दिया है। भारत के लिए गुरजंत ने दो गोल जबकि हरमनप्रीत सिंह, शमशेर और नीलकांत शर्मा ने एक-एक गोल दागा।
पहले ही क्वॉर्टर फाइनल में एंट्री पा चुकी टीम इंडिया ने मैच के शुरुआती से ही आक्रामक खेल का प्रदर्शन किया, जिसकी वजह से मेजबान पर अतिरिक्त दबाव बना।
मैच के पहले क्वॉर्टर में भारत ने दमदार शुरुआत की और 12वें मिनट में ही 1-0 की बढ़त बना ली है। उसके लिए हरमनप्रीत सिंह ने पेनल्टी कॉर्नर के जरिए गोल दागा। हरमनप्रीत सिंह इस ओलिंपिक में ये चौथा गोल है। यह क्वॉर्टर पूरी तरह भारत के पक्ष में गया, जबकि दूसरे क्वॉर्टर में भी उसने गोल दागा। 17वें मिनट में गुरजंत ने सिमरनजीत सिंह के पास पर मैदानी गोल दागते हुए भारत को 2-0 बढ़त दिला दी। यहां भारतीय खिलाड़ी ने जापान के डिफेंस को बुरी तरह चकमा दिया।
हालांकि, 19वें मिनट में केंटा टनाका ने जापान के लिए पहला गोल दागा। उनके स्टीक से निकली गेंद बीरेंदर लाकड़ा को छकाते हुए गोल पास्ट में समा गई। इस तरह दूसरे क्वॉर्टर में दोनों टीमों ने 1-1 गोल किया। हाफ टाइम तक भारत जापान पर 2-1 की बढ़त बनाया हुए था।
तीसरे क्वॉर्टर मे भी दो गोल हुए। एक भारत ने किया, जबकि दूसरा मेजबान जापान के नाम रहा। जापान ने 31वें मिनट में गोल कर भारत की बराबरी की, लेकिन इसके तुरंत ही बाद भारत ने एक बार फिर बढ़त हासिल कर ली। जापान के लिए कोटा वटानबे ने किया तो भारत के लिए तीसरा गोल शमशेर ने किया। चौथे और आखिरी क्वॉर्टर में भारत के लिए नीलकांत ने 51वें मिनट में गेंद जाल में उलझाते हुए भारत को 4-2 की बड़ी बढ़त दिला दी। भारत के लिए आखिरी गोल गुरजंत की स्टिक से निकला। उन्होंने यह गोल 56वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर पर दागा।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *