अगले साल के लिए टाले जा सकते हैं टोक्यो ओलंपिक: सेबेस्टियन कोए

विश्व एथलेटिक्स के प्रमुख सेबेस्टियन कोए ने गुरुवार को स्वीकार किया कि कोरोनो वायरस के प्रकोप की वजह से टोक्यो ओलंपिक को अगले साल के लिए टाला जा सकता है, लेकिन इसको लेकर अभी निश्चित निर्णय लेना जल्दबाजी होगी।
इससे पहले अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति के अध्यक्ष थॉमस बाक ने कहा था कि टोक्यो ओलंपिक को अपने तय समय पर होने की उम्मीद है। बता दें कि टोक्यो ओलंपिक का समय 24 जुलाई से 9 अगस्त तक रखा गया है।
सेबेस्टियन कोए ने एक इंटरव्यू में कहा, ‘टोक्यो ओलंपिक में देरी हो सकती है। क्या ओलंपिक सितंबर या अक्तूबर में हो सकता है? इस सवाल के जवाब में एथलेटिक्स प्रमुख ने कहा, हां यह संभव है और इस वक्त कुछ भी हो सकता है।’
बता दें कि कोरोना वायरस की वजह से यूरो 2020 के अगले साल तक के लिए टाल दिया गया है। इसके अलावा स्पोर्ट्स के कई सारे इवेंट को रद्द और स्थगित कर दिए गए हैं।
इस महामारी ने पूरी दुनिया में कोहराम मचा कर रख दिया है। इस खतरनाक वायरस की वजह से विश्व में अब तक 8000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि दो लाख से ज्यादा लोग इससे संक्रमित बताए जा रहे हैं।
भारत के मुख्य बैडमिंटन कोच पुलेला गोपीचंद का मानना है कि कोरोना वायरस महामारी की वजह से टोक्यो ओलंपिक को स्थगित कर दिया जाना चाहिए।
गोपीचंद ने समाचार एजेंसी पीटीआई से बातचीत में कहा, ‘मुझे ओलंपिक के बारे में संदेह है। ऐसा नहीं है कि यह अभी दूर है। तैयारी अभी से ही शुरू होनी है इसलिए आईओसी को अब सभी को फोन करके आराम करने के लिए कहना होगा।’
उन्होंने आगे कहा, ‘मुझे लगता है कि वर्तमान परिदृश्य में यह एक कठिन समय है। पूरी दुनिया को स्वास्थ्य और सुरक्षा की फिक्र है। इसलिए मुझे लगता है कि इस स्थिति को देखते हुए ओलंपिक को स्थगित कर दिया जाए तो बेहतर है।
गौरतलब है कि 24 जुलाई से 9 अगस्त तक टोक्यो ओलंपिक का आयोजन होना है। इससे पहले बुधवार को अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) ने कहा कि टोक्यो ओलंपिक को तय समय पर शुरू होने की उम्मीद है। बता दें कि इस खतरनाक वायरस की वजह 8000 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है जबकि वैश्विक स्तर पर 2,00,000 से ज्यादा लोग इससे संक्रमित हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *