आज अपना 34वां बर्थडे मना रहे हैं भारत के दिग्‍गज ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन

नई दिल्‍ली। दुनिया के दिग्गज स्पिनरों में शुमार भारत के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन आज यानि 17 सितंबर 2020 को अपना 34वां बर्थडे मना रहे हैं। अश्विन ने 2010 में इंटरनैशनल क्रिकेट में डेब्यू किया और पहला वनडे श्रीलंका के खिलाफ हरारे में खेला। अश्विन ने अपने डेब्यू टेस्ट में कमाल की गेंदबाजी की और मैन ऑफ द मैच बने।
भज्जी की जगह हुए थे टीम में शामिल
अश्विन ने आईपीएल में अपना नाम कमाया और 2011 में उन्हें हरभजन सिंह की जगह टीम में शामिल किया गया। टेस्ट डेब्यू में ही उन्होंने कमाल दिखाया और 9 विकेट झटके, जो नरेंद्र हिरवानी के बाद टेस्ट में पदार्पण करने वाले किसी भारतीय का दूसरा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है।
ऐसा रहा डेब्यू टेस्ट
दिल्ली में अश्विन ने टेस्ट डेब्यू किया और पहला मैच वेस्ट इंडीज के खिलाफ खेला। महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में भारत को इस मैच में 5 विकेट से जीत मिली और अश्विन मैन ऑफ द मैच बने। अश्विन ने पहली पारी में 81 रन देकर 3 विकेट झटके जबकि दूसरी पारी में 47 रन देकर 6 विकेट लिए जिससे मेहमान टीम 180 रन पर सिमट गई।
अपनी उस पहली (तीन-टेस्ट मैचों की) सीरीज में उन्होंने 22 विकेट, एक शतक और भारत के प्रमुख स्पिनर का टैग हासिल किया था। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में संघर्ष किया लेकिन 2012 में न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज में दमदार प्रदर्शन किया और 2 टेस्ट मैचों में 18 विकेट लिए।
टेस्ट में सबसे तेज 300 विकेट
भारतीय ऑफ स्पिनर अश्विन टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज 300 विकेट हासिल करने वाले गेंदबाज हैं। उन्होंने यह उपलब्धि 54 टेस्ट मैचों में हासिल की थी जो डेनिस लिली से दो कम है।
साल-दर-साल बढ़ता गया विकेटों का ग्राफ
अश्विन ने 2013 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चेन्नै में 103 रन देकर 7 विकेट लिए थे और दो साल बाद साउथ अफ्रीका के खिलाफ नागपुर में 66 रन देकर 7 विकेट झटके। साल 2015 में अश्विन ने भारत को श्रीलंका में ऐतिहासिक सीरीज जीत दिलाने में भी अहम भूमिका निभाई जिसमें कुल 21 विकेट लिए। इस सीरीज के बाद उनके नाम 27 टेस्ट मैचों में 12 बार पांच विकेट लेने की उपलब्धि दर्ज हुई।
अश्विन ने 2016 में वेस्ट इंडीज दौरे पर नंबर-6 पर बल्लेबाजी करते हुए दो टेस्ट शतक जमाए। एंटीगा में वह तीसरे खिलाड़ी बने (जैक ग्रेगोरी और इयान बॉथम के बाद), जिन्होंने एक ही टेस्ट मैच में सात विकेट लिए और सेंचुरी जड़ी। उन्हें साल 2017 में ICC क्रिकेटर ऑफ द ईयर और टेस्ट प्लेयर ऑफ द ईयर चुना गया।
ऐसा है करियर
अश्विन ने करियर में अब तक 71 टेस्ट, 111 वनडे और 46 टी20 इंटरनैशनल मैच खेले हैं। उनके नाम टेस्ट में 365, वनडे में 150 और टी20 इंटरनैशनल में 52 विकेट हैं। उन्होंने टेस्ट करियर में बल्लेबाजी में भी कमाल किया है और 4 शतक और 11 अर्धशतकों की मदद से कुल 2389 रन भी बनाए हैं। वनडे में भी एक बार अर्धशतक लगाया और कुल 675 रन बनाए।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *