क्रिकेट की कोचिंग में तकनीक का इस्तेमाल करने वाले बॉब वूल्मर का जन्‍मदिन आज

बॉब वूल्मर… यह नाम आते ही क्रिकेट प्रेमियों के जेहन में कई किस्से उबर आते हैं। वूल्मर को कोचिंग की दुनिया में नए प्रयोगों के लिए जाना जाता है।
वूल्मर के पिता उत्तर प्रदेश के लिए एक रणजी ट्रॉफी मैच खेले। वहीं उन्होंने इंग्लैंड का प्रतिनिधित्व किया लेकिन भारत से उनका गहरा नाता था। आज ही के दिन सन् 1948 में भारत के कानपुर में उनका जन्म हुआ था। वूल्मर ने कंप्यूटर और अपनी इच्छाशक्ति से क्रिकेट कोचिंग के परंपरागत तरीकों को बदलकर रख दिया। इंग्लैंड में वारविकशर काउंटी के लिए 1994 में उनकी कोचिंग ने कई अच्छे नतीजे लाए।
लेकिन वूल्मर की कोचिंग का सबसे शानदार कहा जाने वाला दौर साउथ अफ्रीकी टीम के साथ आया, तब के कप्तान हैंसी क्रोन्ये के साथ उनकी जोड़ी खूब जमी। क्रोन्ये ईयरफोन लगाकर मैदान पर होते और बाहर से उन्हें गाइड करते रहते। हालांकि यह ज्यादा चल नहीं पाया और आईसीसी ने इस पर रोक लगा दी। यही वूल्मर थे जिन्होंने पाकिस्तानी टीम में अनुशासन लाने का काम किया। बल्लेबाज के तौर पर वूल्मर ने इंग्लैंड के लिए 19 टेस्ट मैच भी खेले। लेकिन उन्हें याद हमेशा उनकी कोचिंग स्टाइल के लिए ही किया जाता है।
जब आए चौंकाने वाले नतीजे
साल 2007 पहले वेस्ट इंडीज में 50 ओवर का वर्ल्ड कप चल रहा था। 17 मार्च को इस टूर्नामेंट में भारत और बांग्लादेश व पाकिस्तान और आयरलैंड के बीच मैच खेला जा रहा था। दोनों मैचों के नतीजों ने क्रिकेट फैन्स को चौंका दिया। बांग्लादेश ने भारत को 5 विकेट से, तो आयरलैंड ने पाकिस्तान को 3 विकेट से मात दी। इसके बाद दोनों टीमों के लिए टूर्नामेंट में आगे का सफर मुश्किल हो गया और अंत में दोनों बाहर हो गईं।
फिर आई बुरी खबर
मैच खत्म होने के कुछ घंटे बाद ही पाकिस्तान टीम के कोच बॉब वूल्मर की रहस्यमय हालात में मौत हो गई। कहा गया आयरलैंड जैसी कमजोर टीम से पाकिस्तान की हार से वूल्मर बेहद तनाव में थे। इसी के चलते उन्होंने खूब शराब पी और बाद में उन्हें उनके होटल के कमरे में बेहोश पाया गया। बेहोश वूल्मर को जमैका के एक हॉस्पिटल में पहुंचाया गया, यहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।
मौत से क्रिकेट की दुनिया में शोक
इन संदिग्ध हालातों में पाकिस्तान के कोच की मौत से क्रिकेट की दुनिया में शोक की लहर दौड़ गई। जमैका पुलिस मर्डर के एंगल से मामले की जांच में जुट गई। वूल्मर की मौत के तीन दिन बाद जमैका पुलिस ने कहा कि उसे शक है कि वूल्मर का मर्डर हुआ है। हालांकि बाद में पुलिस ने इस केस को यह कहकर बंद कर दिया है उसकी जांच से वह इस नतीजे पर पहुंची है कि उनकी मौत कोई मर्डर नहीं बल्कि स्वाभाविक थी।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *