तीन दिवसीय इंदौर लिटरेचर फेस्टिवल 26 नवंबर से

लेखन, पठन-पाठन, संघर्ष और सफलताओं का ताना-बाना लिए 26 से 28 नवंबर तक इंदौर लिटरेचर फेस्टिवल गांधी हॉल में होने जा रहा है। इसमें कला, साहित्य और संस्कृति के बड़े आयोजन होंगे। कई जाने-माने लेखक, कहानीकार, गायक और नृत्य कलाकार मौजूद रहेंगे। पद्म विभूषण सोनल मानसिंह भी कार्यक्रम में शामिल होंगी। वे अपने जीवन के संघर्षों के साथ अन्य विषयों पर भी चर्चा करेंगी। स्टेट बैंक आफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन रजनीश कुमार भी उपस्थित रहेंगे। वे हाल ही में आई उनकी बेस्ट सेलर पुस्तक पर बात करेंगे। हेलो हिंदुस्तान द्वारा इसे आयोजित किया जा रहा है। इंदौर लिटरेचर फेस्टिवल के संस्थापक प्रवीण शर्मा ने बताया कि तीनों दिन कार्यक्रम सुबह 10 बजे शुरू होगा और देर शाम तक जारी रहेगा। इंदौर लिटरेचर फेस्टिवल का प्रिंट पार्टनर नईदुनिया है।
आयोजन में प्रसिद्ध लेखक विक्रम संपत, ख्यात अभिनेता और लेखक कबीर बेदी, प्रख्यात कवि लीलाधर जगूड़ी, इंडिया फाउंडेशन के निदेशक राम माधव भी विशेष तौर पर मौजूद रहेंगे। भारत सरकार के सूचना आयुक्त उदय माहुरकर भी शामिल होंगे। उनकी हाल ही में पुस्तक आई है। भारत की प्रमुख लेखिका ममता कालिया और चिंतक-विचारक प्रो. आनंद रंगनाथन भी आएंगे। IIM इंदौर के निदेशक प्रो. हिमांशु राय और इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह भी कार्यक्रम में अनुभव साझा करेंगे। नीरज आर्य के कबीर कैफे बैंड की लाइव प्रस्तुति होगी। युवाओं के लिए यह खास आकर्षण होगा। इसमें इंदौर और प्रदेश के भी कई कलाकार शामिल होंगे। साहित्य के क्षेत्र में बेहतर योगदान देने वाले इंदौर के कलाकारों का सम्मान भी किया जाएगा। जरूरतमंद बच्चों के लिए भी विशेष कार्यक्रम कलाकारों की मौजूदगी में होगा।
तीन खास सत्र
चिंतक विचारक डा. आनंद रंगनाथन, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के पदाधिकारी और इंडिया फाउंडेशन के निदेशक राम माधव और वैज्ञानिक व उपन्यासकार इंद्रा चंद्रशेखर के खास सत्र होंगे। यह सत्र नईदुनिया द्वारा प्रस्तुत किए जाएंगे।
-Legend News

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *