Hindu Rashtra परिसंवाद में राष्ट्र व समाज पर मंथन

आगरा। ह‍िंदू जनजागृत‍ि सम‍ित‍ि द्वारा Hindu Rashtra पर‍िसंवाद का आयोजन क‍िया गया ज‍िसमें हिंदुत्ववादी संगठनों ने कहा क‍ि अनुच्छेद 370 हटाकर केंद्र शासन ने पुरुषार्थ दिखाया है, ऐसा राष्ट्रवादी शासन ही देश में आनेवाले काल में संवैधानिक दृष्टिकोण से भारत को हिंदु राष्ट्र बना सकता है, ऐसा विश्वास आज आगरा ‘Hindu Rashtra परिसंवाद’ में एकजुट हुए हिंदुत्ववादी संगठनों ने विश्वास प्रकट किया । इंदिरा गांधी ने 1976 में आपातकाल में विपक्ष को कारावास में रखकर, डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर के मूल संविधान में असंवैधानिक पद्धति से परिवर्तन कर, ‘सेक्युलर’ शब्द जोडा । तब से भारत में ‘सेक्युलर’वाद का उपयोग केवल अल्पसंख्यकों के तुष्टीकरण एवं अपनी मतपेटी सुरक्षित करने के लिए किया गया है ।

संविधान में सभी नागरिकों को समान अधिकार देने के विषय में स्पष्ट भूमिका होते हुए भी देश में ‘समान नागरिक कानून’ लागू नहीं किया जाता । मस्जिद-चर्च के लिए स्वतंत्र कानून बनानेवाली ‘सेक्युलर’ सरकार हिन्दुओं के मंदिरों पर नियंत्रण कर, सरकार की इच्छानुसार हिन्दुओं की देवनिधि का उपयोग कर रही है । शबरीमला जैसे स्थानों पर हिन्दुओं की प्राचीन परंपराएं भी नष्ट करने का प्रयास किया जा रहा है । सौभाग्य से देश के राजनीतिक दलों को अब बहुसंख्यक हिन्दू समाज का महत्त्व समझ में आने लगा है ।

‘सेक्युलर’वादी नेता अब मंदिरों में, हिन्दुओं के कार्यक्रमों में दिखाई देने लगे हैं । उसी प्रकार मेघालय उच्च न्यायालय के न्यायाधीश ने भी ‘विभाजन के उपरांत भारत को हिन्दू राष्ट्र बनना चाहिए था’, ऐसा मत अपने निर्णय में व्यक्त किया है । इसी दृष्टि से हिन्दू समाज को अपनी शक्ति का बोध कराकर, संगठित रूप से हिन्दू राष्ट्र साकार करने हेतु आगे के कार्य की दिशा निश्‍चित करने हेतु हिन्दू जनजागृति समिति की ओर से आगरा में इस वर्ष 15 सितंबर, 2019 को D-73 (प्रथम तल ) श्रीराम मंदिर चौक के पास , कमला नगर, आगरा में हिन्दू राष्ट्र परिसंवाद का आयोजित किया गया ।

इस परिसंवाद मे जनसंख्या विस्फोट और जनसंख्या नियंत्रण कानून की आवश्यक्ता ,मंदिर संस्कृति रक्षा के प्रयास ,आगरा में बांंग्लादेशी व रोहिंंग्या घुसपैठियों की समस्या , यमुना नदी – संस्कृति की रक्षा, आदि हिन्दुओं की पिछले अनेक वर्षों से प्रलंबित समस्याओं पर विचारमंथन किया गया ।

परिसंवाद में रिवर कन्नेक्ट अभियान के पर्यावरणकारी ई एन टी सर्जन डॉ देवाशीष भट्टाचार्य  , भारत स्वाभि‍मान के देवेंद्र सिंह ढाकरे  , हिन्दू युवा वाहिनी के पीयूष शरण , श्री तरुण सिंह जी; सेव आर फ्यूचर के मनीष शर्मा  ; सनातन संस्था के धर्मप्रचारक , अभय वर्तक , हिन्दू जनजागृति समिति के राष्ट्रीय मार्गदर्शक , सद्गुरु डॉ चारूदत्त पिंगले , समिति के पंजाब और हरियाणा के समन्वयक कार्तिक सालुंके इत्यादी उपस्थित थे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »