मथुरा में इस बार और भी भव्य होगा श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव का आयोजन

मथुरा में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव का आयोजन इस बार और भी भव्य होगा। भगवान के जन्मोत्सव की घड़ी पर पूरे ब्रज में एक साथ शंखनाद होगा। सभी आठ हजार मंदिरों को रंग-बिरेगी रोशनी से सजाया जाएगा। कान्हा के शहर में हर प्रवेश द्वार पर दूर-दराज से आने वाले भक्तों का स्वागत होगा। पुष्प वर्षा कराने की तैयारी भी सरकार कर रही है। अनुमानत: 20 लाख से भी ज्यादा श्रद्धालु श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव में शामिल होने के लिए पहुंचने की शुरुआत 22 अगस्त से ही हो जाएगी।

मुख्यमंत्री योगी आद‍ित्यनाथ के न‍िर्देशानुसार ब्रज तीर्थ विकास परिषद, पर्यटन विभाग और संस्कृति विभाग मिलकर कार्यक्रमों का आयोजन करेंगे।

इस बार श्रीकृष्म के जन्मोत्सव की घड़ी पर सभी मंदिरों में एक साथ शंखनाद होगा। इसके लिए लोगों से अपील भी की जा रही है। मंदिरों में भी घंटे घड़ियाल एक साथ बजाए जाएंगे। मंदिर प्रशासन के साथ भी अफसर लगातार बात कर रहे हैं। कुछ संस्कृत विद्यालय और गुरूकुल का भी सहयोग लिया जा रहा है।

मथुरा के हर प्रवेश द्वार को रंग बिरंगी रोशनी से सजाया जाएगा। इसके लिए भी मार्गों का चिन्हीकरण कर लिया गया है। लाइटों को लगाया जा रहा है। मथुरा के सभी प्रमुख मार्ग भी सजाए जाएंगे। कुछ स्थानों पर तो अभी से लाइटिंग शुरू भी कर दी गई है। हाईवे और एक्सप्रेसवे को टच करने वाले रास्ते भी सुंदर बनाए जाएंगे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तैयारियों की समीक्षा कर रहे हैं। कहां किस तरह से आयोजन हो रहा है उसकी पूरी जानकारी की जा रही है। मुख्यमंत्री ने पिछले दिनों अफसरों की मीटिंग लेकर साफ कहा था कि आयोजन में किसी प्रकार की कमी रहनी नहीं चाहिए। जन्मोत्सव पर इस तरह के आयोजन हों कि मथुरा में आने वाले लोग याद रखें।

श्रीकृष्ण जन्मस्थान पर जन्माष्टमी 24 अगस्त को मनाई जाएगी। जन्मस्थान संस्थान के सचिव कपिल शर्मा ने बताया कि 24 की सुबह से ही आयोजन शुरू हो जाएंगे। रात को भगवान के प्राकट्य की लीला होगी। वहीं द्वारिकाधीश मंदिर में भी जन्माष्टमी 24 को ही मनाई जा रही है। सुबह से ही आयोजन शुरू हो जाएंगे।। मंदिर प्रशासन ने इसे लेकर तैयारियां शुरू कर दी हैं।

-Legend News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »