ISI के लिए मुसलमानों से ज्‍यादा गैर मुस्‍लिम कर रहे हैं जासूसी: दिग्‍विजय सिंह

भिंड। देश में हिंदू आतंकवाद की थ्योरी गढ़ने वालों में शामिल रहे कांग्रेस पार्टी के कद्दावर नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने फिर से एक विवादित बयान दिया है।
इस बार उन्होंने कहा कि पाकिस्‍तान की खुफिया एजेंसी ISI के लिए मुसलमानों से ज्‍यादा गैर-मुसलमान जासूसी कर रहे हैं। अक्सर विवादित बयानों के लिए चर्चा में रहने वाले सिंह ने यह भी कहा कि जो लोग ISI से पैसा लेते हैं, वही बीजेपी और RSS से भी पैसा लेते हैं।
इस पर बीजेपी नेता शिवराज सिंह ने कहा कि दिग्विजय सिंह खबरों में बने रहने के लिए विवादित बयान देते रहते हैं।
बाद में दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर स्पष्ट किया कि उन्होंने बीजेपी पर यह आरोप नहीं लगाया कि वह ISI से पैसा ले कर पाकिस्तान के लिए जासूसी करती है।
मुसलमान कम, गैर-मुसलमान ज्यादा कर रहे जासूसी: दिग्विजय
मध्‍य प्रदेश के भिंड में मीडिया से बातचीत में दिग्विजय सिंह ने कहा, ‘जितने भी पाकिस्तान के लिए जासूसी करते पाए गए हैं, वे लोग बजरंग दल, बीजेपी और ISI से पैसा ले रहे हैं। ISI के लिए जासूसी मुसलमान कम कर रहे हैं और गैर-मुसलमान ज्‍यादा कर रहे हैं। इसको भी समझ लीजिए।’
हमें राष्ट्रीयता का सबक नहीं दे बीजेपी: दिग्विजय
उन्होंने बीजेपी पर राष्ट्रवाद की झूठी रट लगाने का आरोप लगाते हुए कहा, ‘हमारी विचारधारा की लड़ाई बीजेपी और राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ से है जिन्‍होंने आजाद भारत के संघर्ष में कहीं भाग नहीं लिया और हमें राष्‍ट्रीयता का सबक सीखाना चाहते हैं।’
दिग्विजिय ने सवाल किया, ‘1947 से पहले ये लोग कहां थे? जब इंदिरा ने पाकिस्‍तान के दो टुकड़े कर दिए, तब ये लोग कहां थे? इसलिए हमको सबक देने की जरूरत नहीं है।’
पाकिस्तान की भाषा बोलते हैं दिग्विजय: चौहान
वहीं, एमपी के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा, ‘वह खबरों में बने रहने के लिए विवादित बयान देते हैं। वो और उनके नेता पाकिस्तान की भाषा बोलते हैं। पाकिस्तान राहुल गांधी के बयानों का हवाला देता है। जहां तक बात बीजेपी-आरएसएस की है, पूरी विश्व, पूरा देश उनकी देशभक्ति से परिचित है।’
सारे हिंदू आतंकवादी संघ से: दिग्विजय
पिछले साल दिग्विजय सिंह ने हिंदू आतंकवाद को मुद्दा बनाते हुए कहा था कि हिंदू धर्म वाले सभी पकड़े गए आतंकी संघ (आरएसएस) से जुड़े रहे हैं।
उन्होंने कहा कि हिंदू आतंकवादी संघ से आते हैं क्योंकि संघ की विचारधारा नफरत फैलाने वाली है।
कांग्रेसी नेता ने कहा, ‘जितने भी हिंदू धर्म वाले आतंकवादी पकड़े गए हैं, सब संघ के कार्यकर्ता रहे हैं। नाथू राम गोडसे, जिसने महात्मा गांधी को मारा, वह भी आरएसएस का हिस्सा था।’
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *