कांग्रेस की पूरी कहानी एक डायरी के लूज पन्नों पर आधारित: बीजेपी

नई दिल्‍ली। कांग्रेस की तरफ से बालाकोट एयर स्ट्राइक पर सवाल पूछने और पार्टी के कई नेताओं पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाने के बाद बीजेपी ने जोरदार हमला बोला है। पार्टी के वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि कांग्रेस की पूरी कहानी एक डायरी के लूज पन्नों पर आधारित है। प्रसाद ने कहा कि इसके पीछे की कहानी जानना जरूरी है। उन्होंने बताया कि कर्नाटक में कांग्रेस के एमएलसी गोविंद राजू थे, जो पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के सलाहकार थे। उनके यहां रेड हुए थी तो एक डायरी मिली और उसमें SG और RG का बार-बार नाम था। आपको बता दें कि इसी रहस्यमय डायरी को लेकर यह विवाद शुरू हुआ।
बीजेपी नेता ने कहा, ‘उसके बाद 2 अगस्त 2017 को कांग्रेस के नेता डी. शिवकुमार के यहां रेड होती है। वहां कई चीजें पकड़ी गईं। काफी बड़ा व्यापार है। कांग्रेस के सारे एमएलए को संभालकर रखने के लिए उनके बड़े से मकान में लोग आते हैं। रेड के दौरान शिवकुमार ने आयकर विभाग की टीम को एक लूज शीट (डायरी के लूज पन्ने) भी पकड़ा दी लेकिन वह फोटो कॉपी थी।’
शिवकुमार और लूज पन्ने
प्रसाद ने कहा कि यह पूछे जाने पर कि आपको ये कहां से मिले, शिवकुमार ने कहा था कि मैं नेता हूं, मुझे मिल जाता है। बीजेपी नेता ने कहा कि कांग्रेस ने शुक्रवार को इसी लूज शीट के आधार पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की और झूठे आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि IT विभाग ने शिवकुमार का बयान लिया था और पूछा गया कि आप इसे वैध ठहराते हैं और क्या आपके पास इसकी मूल कॉपी हैं? इस पर शिवकुमार ने मना कर दिया था।
क्यों नहीं किया केस?
शिवकुमार से पूछा गया कि अगर बीजेपी के टॉप नेताओं को घूस दिया गया है तो आपने ऐंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) या कर्नाटक लोकायुक्त को जानकारी क्यों नहीं दी। इस पर उन्होंने कहा था कि उन्हें लूज शीट की सच्चाई का पता नहीं है इसलिए उन्होंने केस नहीं किया। प्रसाद ने बताया कि IT विभाग ने येदियुरप्पा को बुलाया और पूछा कि यह आपके दस्तखत हैं तो उन्होंने नहीं में जवाब दिया।
IT विभाग ने सेंट्रल फरेंसिक लैबरेटरी के पास हस्ताक्षर जांचने की प्रक्रिया शुरू की। लैबरेटरी ने डायरी पर जो दस्तखत है, उसकी मूल कॉपी मांगी। शिवकुमार ने जवाब दिया कि मूल कॉपी उनके पास नहीं है। प्रसाद ने आरोप लगाया, ‘ऑरिजनल का पता नहीं, अपने को बचाने के लिए ये कागज पकड़ा दिए गए। केस नहीं किया क्योंकि सच्चाई पता नहीं है। क्या कांग्रेस पार्टी झूठ और फरेब पर चलेगी। ये बड़े सवाल है।’
कांग्रेस का डायरी दावा
कर्नाटक में सरकार बनाने को लेकर बीजेपी पर पैसों के लेनदेन का आरोप लगाते हुए कांग्रेस ने डायरी मिलने का दावा किया है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बीजेपी के दिवंगत नेता अनंत कुमार और पूर्व सीएम बीएस येदियुरप्पा के बीच हुई बातचीत और डायरी में लिखे 1800 करोड़ के डीटेल्स का दावा किया। कांग्रेस ने यह भी कहा कि एक न्यूज मीडिया में प्रकाशित इस रिपोर्ट के आधार पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर बीजेपी के सेंट्रल कमिटी के सभी नेताओं की जांच होनी चाहिए।
‘खुशबू आ नहीं सकती कागज के फूलों से’
रविशंकर प्रसाद ने आगे कहा कि एक कहावत है कि खूशबू आ नहीं सकती कागज के फूलों से। उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस पार्टी हताश है। IT विभाग, CBDT का बयान है उसमें सब साफ हो गया। दरअसल, होने वाली हार से कांग्रेस पूरी तरह से घबराई हुई है। कांग्रेस अपना संतुलन खो चुकी है।’
बालाकोट स्ट्राइक पर सैम पित्रोदा के बयान पर निशाना साधते हुए प्रसाद ने कहा कि जिस व्यक्ति ने भारत के सेना के मनोबल को गिराया है, जिसने बालाकोट स्ट्राइक का सबूत मांगा है वह राहुल गांधी के सलाहकार हैं। वह विदेश से इसीलिए आए हैं कि चुनाव को हेड करें। राजीव गांधी के भी वह सलाहकार हुआ करते थे। सैम पित्रोदा उस बहादुर एयरफोर्स पर सवाल उठा रहे हैं जिसके चीफ ने साफ कहा है कि हमने सफल ऑपरेशन किया है।
क्या कहा था सैम पित्रोदा ने?
लोकसभा चुनावों के लिए कांग्रेस की मेनिफेस्टो कमिटी के सदस्य सैम पित्रोदा ने एक इंटरव्यू में कहा था कि पुलवामा अटैक के लिए पूरा पाकिस्तान जिम्मेदार नहीं है। उन्होंने एयर स्ट्राइक पर सवाल खड़े करते हुए कहा था, ‘क्या एयर स्ट्राइक हुई? अगर हुई तो कितने लोग मारे गए? मुझे जानने का अधिकार है।’
पीएम मोदी ने इसके बाद ट्वीट कर कहा कि कांग्रेस पार्टी देश की सेनाओं पर सवाल खड़ा कर रही है। उन्होंने लिखा, ‘कांग्रेस राजघराने के वफादार ने मान लिया है कि कांग्रेस आतंकवादी ताकतों को जवाब नहीं देना चाहती थी। यह न्यू इंडिया है और हम आतंकवाद को उसी भाषा में जवाब देंगे जो उसे समझ में आती है।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »