सुप्रीम कोर्ट ने CBI को सौंपा सुशांत सिंह की मौत का मामला

नई दिल्‍ली। सुप्रीम कोर्ट ने CBI को सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच करने का आदेश दिया है. शीर्ष अदालत ने आज रिया चक्रवर्ती की याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि बिहार सरकार का सीबीआई से मामले की जांच का अनुरोध करना उचित था.
फ़ैसला सुनाते हुए जस्टिस ऋषिकेश रॉय ने कहा कि पटना में एफ़आईआर दर्ज होना भी क़ानूनी रूप से सही था.
सुशांत की बहन श्वेता ने सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले पर ख़ुशी जताई है. उन्होंने लिखा, ”आख़िरकार सुशांत के लिए सीबीआई!”
बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले पर ख़ुशी जताई है. उन्होंने कहा, ”सुप्रीम कोर्ट का फ़ैसला ये दिखाता है कि बिहार पुलिस सही थी. मैं बहुत ख़ुश हूं. सुप्रीम कोर्ट के आज के फ़ैसले से लोगों का भरोसा बढ़ा है और उन्हें यक़ीन हुआ है कि इंसाफ़ होगा. मुंबई पुलिस ने इस पूरे मामले में जिस तरह काम किया, वो ग़ैरक़ानूनी थी ”
सुशांत के पिता के वकील विकास सिंह ने कहा, ”ये सुशांत के परिवार की जीत है. सुप्रीम कोर्ट ने आज के फ़ैसले में जो कुछ भी कहा, वो सब हमारे पक्ष में था.”
रिया चक्रवर्ती ने पटना में दर्ज मामले को मुंबई ट्रांसफर करने की अपील की थी.
रिया ने सुप्रीम कोर्ट से कहा था कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जाँच मुंबई पुलिस पहले से ही कर रही है और उन्होंने अपना बयान भी पुलिस के सामने दर्ज कराया है.
रिया ख़ुद को सुशांत की गर्लफ़्रेंड बताती हैं लेकिन सुशांत के पिता ने आरोप लगाया है कि उनके बेटे की मौत रिया के कारण हुई है. सुशांत के पिता ने 25 जुलाई को पटना के राजीव नगर थाने में रिया के ख़िलाफ़ एफ़आईआर दर्ज कराई थी.
इससे पहले हुई सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने फ़ैसला सुरक्षित रख लिया था. रिया की ओर से वकील श्याम दीवान और बिहार सरकार की ओर से मनिंदर सिंह ने दलीलें पेश की थीं. वहीं सुशांत के पिता की ओर से विकास सिंह और महाराष्ट्र सरकार की ओर से अभिषेक मनु सिंघवी ने दलीलें दी थीं.
बिहार सरकार के वकील ने कहा था कि राजनीतिक दबाव के कारण महाराष्ट्र पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया है जबकि महाराष्ट्र सरकार के वकील का कहना था कि बिहार में होने वाले चुनाव के कारण मामले का राजनीतीकरण हो रहा है.
युवा बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत का शव 14 जून को मुंबई में बांद्रा स्थित उनके घर में मिला था. सुशांत के परिवार का आरोप है कि उनकी गर्लफ़्रेंड रही रिया चक्रवर्ती ने उन्हें आत्महत्या के लिए उकसाया और परिजनों से दूर किया.
सुशांत सिंह राजपूत की मौत ने बॉलीवुड में बाहरी कलाकारों के संघर्ष और नेपोटिज़म की बहस को एक बार फिर तेज़ कर दिया है. फ़िल्म इंडस्ट्री के एक तबके का आरोप है कि बाहरी होने के कारण सुशांत को निशाना बनाया जा रहा था.
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *