दूरदर्शन पर टेलिकास्ट होगा राम मंदिर के भूमिपूजन का कार्यक्रम, CPI को आपत्ति

नई दिल्‍ली। कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया CPI ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए 5 अगस्त को भूमि पूजन कार्यक्रम को दूरदर्शन पर टेलिकास्ट करने के खिलाफ कड़ी आपत्ति जताई है।
पार्टी ने सोमवार को केंद्र सरकार को चिट्ठी लिखकर कहा कि सरकारी चैनल पर यह कार्यक्रम प्रसारित करना ठीक नहीं होगा। सीपीआई की इस आपत्ति पर राम जन्मभूमि ट्रस्ट ने कड़ी प्रतिक्रिया दी। ट्रस्ट के सदस्य कामेश्वर चौपाल ने वामदल पर धार्मिक कार्यक्रम को तुच्छ राजनीति में घसीटने का आरोप लगाया।
सीपीआई की तरफ से यह चिट्ठी बिनय विश्वम ने लिखी है। इसमें पार्टी ने दलील दी कि दूरदर्शन पर धार्मिक कार्यक्रम का प्रसारण करना राष्ट्रीय अखंडता की भावना के खिलाफ है। उसने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का मुद्दा काफी लंबी अवधि तक विवाद और सामाजिक वैमनस्य का कारण बना रहा, इसलिए इसके भूमि पूजन समारोह का प्रसारण नहीं किया जाना चाहिए। पार्टी ने केंद्र सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय को लिखी चिट्ठी में कहा, ‘1992 में बाबरी मस्जिद गिराने के बाद अयोध्या में राम जन्मभूमि मंदिर के लिए छिड़े आंदोलन से देश में दशकों तक संघर्ष और सामाजिक वैमनस्य बना रहा।’
उसने कहा, ‘दूरदर्शन (DD) पर लागू प्रसार भारती एक्ट की धारा 12 2(ए) में स्पष्ट कहा गया है कि इसका उद्देश्य देश की एकता और अखंडता तथा संवैधानिक मूल्यों को मजबूती प्रदान करना है।’ पार्टी ने चिट्ठी में आगे लिखा, ‘देश के राष्ट्रीय प्रसारणकर्ता के रूप में दूरदर्शन का अयोध्या में 5 अगस्त को होने वाले धार्मिक कार्यक्रम के प्रसारण में इस्तेमाल किया जाना राष्ट्रीय अखंडता की मान्य भावनाओं के खिलाफ है क्योंकि इसकी स्थापना धर्मनिरपेक्षता और धार्मिक सद्भाव के सिद्धांतों पर की गई थी।’
चिट्ठी में केंद्र सरकार को इस मुद्दे का राजनीतिकरण करने से बचने का सुझाव देते हुए कहा गया है कि देश की धर्मनिरपेक्ष छवि से समझौता नहीं किया जाना चाहिए। चिट्ठी के आखिर में लिखा गया है, ‘सरकार द्वारा संचालित दूरदर्शन का इस्तेमाल अयोध्या के धार्मिक कार्यक्रम के प्रसारण में बिल्कुल नहीं करना चाहिए।’
ट्रस्ट के सदस्य कामेश्वर चौपाल ने कम्युनिस्ट पार्टी पर जबर्दस्त प्रहार किया। उन्होंने कहा कि कम्युनिस्ट पार्टी समाज को तोड़ने की दुकान चलाती है इसलिए उसे भाईचारी की भावना मजबूत होने से डर लगता है। उन्होंने कहा, ‘देश में कम्युनिस्ट पार्टी का काम-धंधा बंद हो गया। उसके पास कुछ काम बचा नहीं है इसलिए कहीं-कहीं से जुगाड़ कर रहा है। जो उसके आका हैं चीन, उसकी भी दुकान बंद हो रही है। जब दुकान बंद हो जाती है तो लोग ऐसे ही अगल-बगल झांकते रहते हैं। किसी के घर में उत्सव हो रहा है तो उनके पेट में दर्द हो रहा है।’ चौपाल ने कहा कि कम्युनिस्ट पार्टी को इस बात का दर्द है कि लोग एक-दूसरे से मिल-जुलकर कैसे रह सकते हैं। यहां प्रेम प्यार की भावना बढ़ेगी, भाईचारे का संबंध मजबूत होगा। तो लड़ाई लगाने की उनकी दुकान तो बंद हो जाएगी।
ध्यान रहे कि अयोध्या में प्रस्तावित राम मंदिर के भूमि पूजन की तैयारियों के बीच भगवान राम के कुछ मुस्लिम भक्त इस ऐतिहासिक अवसर पर उत्सव मनाने की तैयारी कर रहे हैं। अयोध्या जिले के निवासी जमशेद खान ने कहा कि वह हिंदू भाइयों के साथ मंदिर निर्माण के शुभारंभ का उत्सव मनाएंगे। श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के सदस्य अनिल मिश्रा के मुताबिक भूमि पूजन कार्यक्रम के लिए बीजेपी नेता लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और सरसंघचालक मोहन भागवत के अलावा कई नेताओं को निमंत्रण दिया जा रहा है। इस कार्यक्रम का सीधा प्रसारण दूरदर्शन द्वारा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इसके अतिरिक्त अन्य मतावलंबियों को भी न्योता भेजने की योजना है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *