राष्ट्रपति ने कोरोना योद्धाओं सहित व्‍यापारियों का भी आभार जताया

नई दिल्‍ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कोरोना वायरस संक्रमण से निपटने और देश में लॉकडाउन को प्रभावी बनाने के लिए आज पुलिस बल, चिकित्सा कर्मियों, सफाई कर्मियों और व्यापारियों का आभार जताया।
राष्ट्रपति ने ट्विटर पर देश के नागरिकों, गैर-सरकारी संगठनों, सामाजिक कार्यकर्ताओं, धार्मिक और परमार्थ संगठनों, रेड क्रॉस तथा अन्य कई लोगों एवं संगठनों का आभार व्यक्त किया जो विभिन्न तरीकों से देश की सेवा कर रहे हैं।
भारत इस वक्त कोरोना महामारी के संकट से जूझ रहा है। वायरस से निपटने के लिए सरकार हरसंभव कोशिश कर रही है।
राष्ट्रपति कोविंद ने कहा, ‘मैं सभी देशवासियों, गैर सरकारी संस्थानों, सामाजिक कार्यकर्ताओं, धार्मिक व जन-सेवी संगठनों, तथा रेड क्रॉस सहित उन सभी लोगों को धन्यवाद देता हूं जो विभिन्न तरीकों से योगदान दे रहे हैं। उनका सेवा-भाव सराहनीय है। मुझे विश्वास है कि कोविड-19 पर विजय पाने में उनका सतत योगदान बना रहेगा।’
कोविंद ने ट्वीट किया, ‘आइए, हम पुलिस, सशस्त्र बलों और सुरक्षा कर्मियों के साहस और दृढ़-संकल्प के लिए उनका आभार व्यक्त करें। देश के भीतर लॉकडाउन को प्रभावी बनाने में, हमारे पुलिस बल संवेदनशीलता और दक्षता का परिचय दे रहे हैं तथा हमारे सशस्त्र व अर्द्धसैनिक-बल सीमा पार आतंकवाद से देश की सुरक्षा कर रहे हैं।
उन्होंने कहा कि भारी बाधाओं के बावजूद साफ-सफाई सुनिश्चित करने के लिए अथक परिश्रम करने वाले हमारे सफाई कर्मी, नगरपालिका कर्मचारी और जन सुविधाओं में कार्यरत सभी कर्मवीर हमारे असली नायक हैं। वे हमारे लिए प्रेरणा का स्रोत भी हैं। कोविंद ने कहा , ‘परिवहन सेवाएं प्रदान करने वाले सभी चालक, तथा छोटे व्यापारी व दुकानदार सहित, इस कठिन समय में नागरिकों को आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने वाले सभी कर्मी विशेष प्रशंसा के हकदार हैं। मैं उत्साह के साथ सेवा करने की उनकी भावना को नमन करता हूं।’
कोविंद ने कहा कि सारे देश में टेस्टिंग-लैब्स में कार्यरत वैज्ञानिकों और तकनीशियनों की प्रतिबद्धता अद्वितीय है। 24 घंटे काम करते हुए, उन्होंने अत्यंत प्रतिकूल परिस्थितियों में अब तक लगभग 4 लाख नमूने एकत्र किए हैं। उन्होंने देश सेवा को सर्वोपरि रखा है। उनकी निस्वार्थ कार्यनिष्ठा प्रशंसनीय है। राष्ट्रपति ने कहा, ‘हमारे डॉक्टर, नर्स और अन्य सभी स्वास्थ्य-कर्मी अनुकरणीय साहस का परिचय दे रहे हैं। देशवासियों का जीवन बचाने के लिए वे अपनी जान जोखिम में डाल रहे हैं। वे जिस समर्पण और निष्ठा के साथ देश की सेवा कर रहे हैं उसका उल्लेख इतिहास में ‘बलिदान और सेवा की महागाथा’ के रूप में किया जाएगा।’
उन्होंने कहा, ‘अपने और परिवारजन के लिए गंभीर जोखिम उठाते हुए, कोविड-19 के खिलाफ युद्ध में देश की सेवा करने वाले सभी देशवासियों के लिए, मैं विशेष आभार और सम्मान व्यक्त करता हूं।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *