‘द कश्मीर फाइल्स’ के डायरेक्टर विवेक अग्निहोत्री को ‘Y’ श्रेणी की सुरक्षा

डायरेक्टर विवेक अग्निहोत्री की फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ जब से रिलीज हुई है तभी से यह हर तरफ चर्चा में है। जहां कश्मीरी पंडितों के पलायन पर बनी इस फिल्म की काफी लोग तारीफ कर रहे हैं वहीं एक वर्ग इस फिल्म को मुस्लिम के खिलाफ घृणा फैलाने वाली बताते हुए इसका विरोध कर रहा है। फिल्म के रिलीज होने के बाद बहुत से लोग इसके डायरेक्टर विवेक अग्निहोत्री को भला-बुरा भी कह रहे हैं। इसके बाद भारत सरकार के गृह मंत्रालय ने विवेक को ‘Y’ कैटिगरी की सुरक्षा दी है। विवेक को यह सुरक्षा पूरे भारत में सीआरपीएफ देगी।
क्यों मिली विवेक को वाई कैटिगरी की सुरक्षा?
बता दें कि विवेक अग्निहोत्री ने दावा किया था कि उन्हें इस फिल्म के लिए जान से मारने की धमकियां मिल रही हैं। इसके बाद ही केंद्र सरकार ने उन्हें वाई कैटिगरी की सुरक्षा देने का फैसला किया है। इस फिल्म के रिलीज होने से पहले विवेक अग्निहोत्री ने अपना ट्विटर अकाउंट भी डीएक्टिवेट कर दिया था। उन्होंने कहा था कि कुछ लोग उन्हें और उनके परिवार को जान से मारने की धमकियां और अश्लील मेसेज भेज रहे हैं। विवेक अग्निहोत्री से पहले सरकार ने एक्ट्रेस कंगना रनौत को भी ‘Y’ कैटिगरी की सुरक्षा दी गई थी।
क्या होती है ‘Y’ कैटिगरी की सुरक्षा और किसे मिलती है?
इसमें कुल 11 सुरक्षाकर्मी शामिल होते हैं। जिसमें दो पीएसओ (निजी सुरक्षागार्ड) भी होते हैं। इस श्रेणी में कोई कमांडो नहीं तैनात होता है। देश के सम्मानित लोगों और पॉलिटिशंस जिन्हें जान का खतरा हो तो उन्हें यह सुरक्षा दी जाती है। ये सुरक्षा मंत्रियों को मिलने वाली सुरक्षा से अलग होती है। इसमें पहले सरकार को इसके लिए एप्लीकेशन देनी होती है, जिसके बाद सरकार खुफिया एजेंसियों के जरिए होने वाले खतरे का अंदाजा लगाती हैं। खतरे की बात कंफर्म होने पर सुरक्षा दी जाती है। होम सेक्रटरी, डायरेक्टर जनरल और चीफ सेक्रटरी की कमेटी यह तय करती है कि संबंधित लोगों को किस कैटेगरी में सुरक्षा दी जाए।
इसके अलावा कौन-कौन सी सुरक्षा श्रेणी हैं?
SPG- स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप का काम प्रधानमंत्री, पूर्व प्रधानमंत्री (5 साल तक, उसके बाद खतरे के आधार पर) और उनके परिजनों को सुरक्षा देने का है। एसपीजी में सेना और केंद्रीय पुलिस बलों से सुरक्षाकर्मी आते हैं जिन्हें विशेष ट्रेनिंग दी जाती है। इनके पास अत्याधुनिक हथियार और वाहन होते हैं। एसपीजी टीम का नेतृत्व डीआईजी स्तर के अधिकारी करते हैं।
Z PLUS- एसपीजी सुरक्षा के बाद दूसरे बड़े स्तर की सुरक्षा जेड प्लस है। केंद्रीय गृहमंत्री, रक्षा मंत्री, कुछ अन्य मंत्रियों को इस कैटिगरी की सिक्यॉरिटी दी जाती है।
बढ़िया बिजनेस कर रही है फिल्म
बता दें कि ‘द कश्मीर फाइल्स’ को पिछले शुक्रवार 11 मार्च को रिलीज किया गया था। फिल्म रिलीज होने के बाद लगातार बढ़िया बिजनस कर रही है। पूरे एक हफ्ते में फिल्म ने घरेलू बॉक्स ऑफिस पर अच्छा बिजनस किया है। अभी तक 7 दिन में फिल्म ने कुल 95.50 करोड़ रुपये का बिजनस किया है। फिल्म में अनुपम खेर, दर्शन कुमार, पल्लवी जोशी, मिथुन चक्रवर्ती, चिन्मय मांडलेकर जैसे कलाकार मुख्य भूमिका में हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *