उत्तराखंड के साथ देश को मिली 35 ऑक्सीजन प्लांट की सौगात, प्रधानमंत्री मोदी ने एम्‍स ऋषिकेश में किया प्‍लांट का लोकार्पण

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज पहली नवरात्रि के दिन देवभूमि उत्तराखंड के साथ ही देश को 35 ऑक्सीजन प्लांट की सौगात दी। प्रधानमंत्री मोदी गुरुवार को एम्स ऋषिकेश पहुंचे और यहां आयोजित कार्यक्रम में एम्स में ऑक्सीजन प्लांट का लोकार्पण किया। इसके साथ ही रिमोट द्वारा वर्चुअली देशभर के अन्य ऑक्सीजन प्लांट का उद्धाटन भी किया। इसके बाद पीएम मोदी ने पीएसए ऑक्सीजन प्लांट का निरीक्षण भी किया।

हिमालय की धरती को प्रणाम करना धन्य भाग्‍य
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत माता की जय के साथ अपना संबोधन शुरू किया। कहा कि देवभूमि विश्व के लोगों को आकर्षित करती रही है। इसे मां गंगा का आशीर्वाद मिल रहा है। आज से ही नवरात्र भी शुरू हो रहे हैं और आज के दिन मेरा यहां आकर हिमालय की धरती को प्रणाम करना धन्य भाग्य है। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को अपना मित्र कह कर संबोधित किया।

उन्होंने कहा कि उत्तराखंड की देवधरा ने मेरे जैसे अनेक लोगों के जीवन में बदलाव लाने का काम किया है। उत्तराखंड की भूमि मेरे कर्म और मर्म की भूमि है। यहां से मेरा नाता सत्व का भी है और तत्व का भी है। बीस साल पहले मुझे आज के ही दिन गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में जिम्मेदारी मिली थी इसलिए आज के दिन उत्तराखंड आना मेरा सौभाग्य है। यहां आकर एक नई ऊर्जा मिलती है। जहां योग और आयुर्वेद की शक्ति से जीवन को आरोग्य बनाने का समाधान हुआ है, आज वहीं से देश भर के ऑक्सीजन प्लांट का शुभारंभ हुआ है।
आज मास्क और दवाएं निर्यात कर रहा है भारत
आज मैं देवभूमि उत्तराखंड से देश को 35 ऑक्सीजन प्लांट का उपहार देने में गौरान्वित महसूस कर रहा हूं। प्रधानमंत्री ने कहा एक विश्वस्तरीय जांच लैब से शुरुआत करने के साथ आज हमारे पास तीन हजार विश्वस्तरीय जांच लैब हैं। कभी मास्क और दवाओं के आयात के लिए हम दूसरे देशों पर निर्भर थे। आज भारत मास्क और दवाएं निर्यात कर रहा है। पीएम ने कहा दूरस्थ गांवों में भी वेंटिलेटर और ऑक्सीजन की सुविधा पहुंची है।

कोरोना की  दूसरी लहर में देश और दुनिया में दिन-रात जहां से भी संभव हो वहां से ऑक्सीजन टैंकर उपलब्ध कराए गए। विशेष ट्रेन चलाई गईं। विमान से ऑक्सीजन लाई गई। डीआरडीओ की मदद ली गई। एक लाख से अधिक ऑक्सीजन कंस्ट्रेटर के लिए प्रधानमंत्री कोष से रुपए भी दिए गए। कहा कि देश को करीब चार हजार नए ऑक्सीजन प्लांट मिलने जा रहे हैं। देश के अस्पताल पहले से ज्यादा सक्षम हो रहे हैं। यह गर्व की बात है कि कोरोना वैक्सीन की 93 करोड़ डोज लगाई जा चुकी हैं और जल्द ही हम 100 करोड़ का लक्ष्य हासिल कर लेंगे।

शत-प्रतिशत पहली कोरोना डोज का पड़ाव पूरा करने वाला है उत्तराखंड
प्रधानंमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि उत्तराखंड जल्द ही शत-प्रतिशत पहली कोरोना डोज का पड़ाव पूरा करने वाला है। कहा कि ऑक्सीजन के निर्माण के साथ उसका ट्रांसपोर्टेशन भी मुश्किल होता है। पूर्वी भारत में सबसे अधिक ऑक्सीजन निर्माण होता है। लेकिन दूसरी लहर के दौरान उत्तर और पश्चिम भारत में ऑक्सीजन की सबसे अधिक जरूरत थी। आज देश के हर जिले के पास अपना पीएसए ऑक्सीजन प्लांट है। राज्य सरकार और केंद्र के प्रयासों से भारत में पीएम केयर्स के तहत चार हजार नए ऑक्सीजन संयंत्र स्थापित होंगे। हमारा देश और यहां के अस्पताल अब काफी सक्षम हो गए हैं।

कोविन प्लेटफॉर्म बनाकर पूरी दुनिया को रास्ता दिखाया
कहा कि भारत ने कोविन प्लेटफॉर्म बनाकर पूरी दुनिया को रास्ता दिखाया है कि इतने बड़े पैमाने पर टीकाकरण कैसे होता है। पहले छह एम्स थे। आज देश में 22 एम्स हैं। सरकार का लक्ष्य है कि देश के हर जिले में एक मेडिकल कॉलेज बनाया जाए। उत्तराखंड में भी पिथौरागढ़, हरिद्वार, रुद्रपुर में मेडिकल कॉलेज बनाए जा रहे हैं। कहा कि मैं केदारनाथ धाम पुनर्निमार्ण कार्य का जायजा लेता रहता हूं। ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल लाइन से उत्तराखंड को लाभ मिलेगा। देहरादून हवाई अड्डे की क्षमता को बढ़ाया गया है। 2019 में जल जीवन मिशन शुरू होने से पहले उत्तराखंड के सिर्फ 1 लाख 30 हजार घरों में ही नल से जल पहुंचता था। आज उत्तराखंड के 7 लाख 10 हजार से ज्यादा घरों में नल से जल पहुंचने लगा है। यानि सिर्फ 2 वर्ष के भीतर राज्य के करीब-करीब 6 लाख घरों को पानी का कनेक्शन मिला है।

देश की सुरक्षा में उत्तराखंड की विशेष भूमिका
उन्होंने कहा कि देश की सुरक्षा में उत्तराखंड की विशेष भूमिका है। उत्तराखंड में हवाई सेवाओं के लिए ढांचागत व्यवस्थाएं तैयार की जा रहीं हैं। सरकार की सभी योजनाओं का लाभ उत्तराखंड के लोगों को भी होगा। चारधाम को जोड़ने वाली ऑल वेदर रोड पर तेजी से काम चल रहा है। कहा कि चारधाम परियोजना देश और दुनिया से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए बहुत बड़ी सुविधा तो बन ही रही है, साथ ही गढ़वाल और कुमाऊं के चुनौतीपूर्ण क्षेत्रों को भी आपस में जोड़ रही है। हमारी सरकार, हर फौजी, हर पूर्व फौजी के हितों को लेकर भी पूरी गंभीरता से काम कर रही है। ये हमारी ही सरकार है जिसने वन रैंक वन पेंशन को लागू करके अपने फौजी भाइयों की 40 साल पुरानी मांग पूरी की।

प्रधानमंत्री ने कहा कि उत्तराखंड की टीम अच्छा काम कर रही है। केंद्र की सरकार भी प्रदेश सरकार की पूरी मदद कर रही है। उत्तराखंड अगले तीन चार सालों में गठन के 25 वर्ष पूरे करने जा रहा है। भाजपा सरकार का डबल इंजन प्रदेश को नई ऊंचाइयों तक ले जाएगा। इसके बाद प्रधानमंत्री ने अपना संबोधन समाप्त किया और सभी का हाथ जोड़कर अभिवादन किया। इसके बाद प्रधानमंत्री मंच से चले गए।
मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री को शॉल भेंट कर स्वागत किया
इससे पहले मंच पर पहुंचने के बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को शॉल भेंट कर उत्तराखंड आने पर उनका स्वागत किया। कहा कि आज ही के दिन प्रधानमंत्री ने गुजरात के मुख्यमंत्री की यात्रा शुरू की थी। प्रधानमंत्री हमारे लिए प्रेरणा के स्रोत हैं।

एक सैनिक पुत्र को प्रदेश की सेवा का मौका दिया
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना काल के कठिन समय में प्रधानमंत्री ने हमारा हाथ थामा। सैनिकों के प्रति आपका स्नेह जग जाहिर है। वह अपने सारे त्योहार सैनिकों के बीच मनाते हैं। इसलिए हर उत्तराखंडवासी के दिल में आपके लिए एक अलग प्रकार का स्नेह है। कहा कि एक सैनिक पुत्र को प्रदेश की सेवा का मौका दिया है। इसके लिए वे प्रधानमंत्री के आभारी हैं।
कोरोना काल में केंद्र सरकार द्वारा किए गए कार्यों को गिनाया
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडविया ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत किया और प्रधानमंत्री के कार्यकाल में किए गए कार्यों को गिनाया। उन्होंने कोरोना काल में केंद्र सरकार द्वारा किए गए कार्यों को भी गिनाया। कहा कि पीएम मोदी ने पूरी दुनिया को वैक्सीन उपलब्ध कराई। उत्तराखंड में 95 प्रतिशत पहली डोज का टीकाकरण हो चुका है। कोरोना काल में प्रधानमंत्री ने देश की फार्मा कंपनी पर भरोसा जताया।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *