पुरुषोत्तम मास का महत्त्व, इस अवधि में किए जानेवाले व्रत

‘इसवर्ष या १८.९.२०२० से १६.१०.२०२० की अवधि में अधिक मास है । यह अधिक मास ‘आाश्विन अधिक मास’ है ।

Read more

अधिक मास में वर्जित माने गए हैं समस्त शुभ कार्य, देव कार्य तथा पितृ कार्य

प्रत्येक राशि, नक्षत्र, करण व चैत्रादि बारह मासों के सभी के स्वामी है, परंतु मलमास का कोई स्वामी नही है

Read more