सत्ता में जनता की वापसी

फिलहाल सब गोलमाल है। देश में लोकतंत्र है और भारतवर्ष विश्व का सबसे बड़ा लोकतंत्र है, पर इस लोकतंत्र में

Read more

ये भारतीय संविधान की समीक्षा का समय है

भारतीय संविधान की मूल भावना को “जनता द्वारा, जनता के लिए, जनता की सरकार” के रूप में व्यक्त किया गया

Read more

संसदीय व्यवस्था में प्रधानमंत्री

इंदिरा गांधी एक मजबूत प्रधानमंत्री रही हैं। उनके प्रतिद्वंद्वी समाजवादी दल के नेता राज नारायण थे। इंदिरा गांधी से चुनाव

Read more

गरीबी नहीं हटा सकती कोई ‘खैरात’

धारणा के स्तर पर हमारा देश एक लोककल्याणकारी राज्य एक “वेलफेयर स्टेट” है। धारणा के स्तर पर हम पूंजीवादी नहीं

Read more

कानून, संविधान और देश

भारतीय लोकतंत्र की समस्यायें और समाधान व‍िषय पर लेखक, मोटीवेशनल व हैपीनेस गुरु के नाम से मशहूर पी के खुराना

Read more

सफलता के कारक हैं दिल, दिमाग और भावनात्मक परिपक्वता

महान वैज्ञानिक सर आइज़ैक न्यूटन ने बहुत पहले ही विश्व को बता दिया था कि हर क्रिया की प्रतिक्रिया होती

Read more

बच्चों को पॉज़िटिव सोचने की शिक्षा दीजिए

अक्सर मां-बाप इस बात को नहीं समझ पाते कि उनके किस व्यवहार का बच्चों पर क्या असर हो रहा है।

Read more

विचारों की शक्ति से बदल सकती है दुनिया

मुझे एक सच्ची धटना याद आती है जो मैंने कभी बचपन में सुनी थी। एक क़ैदी को क़त्ल के इल्ज़ाम

Read more

सफलता की सीढ़‍ियां चढ़ने के चार नियम

मुझे एक कहानी याद आती है जो हम बचपन में सुना करते थे। तीन मित्र समुद्र के किनारे बने एक

Read more

सांप-सीढ़ी के खेल में जीवन की सार्थकता

भारतवर्ष आध्यात्मिक लोगों का देश है। यहां संतों-मुनियों की लंबी परंपरा रही है। आज भी संतों, महंतों, डेरों, गुरुओं और

Read more