T20 World Cup: पाक के खिलाफ टीम इंडिया की प्लेइंग-11 लगभग तय

भारतीय टीम को 24 अक्टूबर को पाकिस्तान के खिलाफ हाई प्रोफाइल मैच खेलना है। इस मैच को टीम इंडिया हर हाल में जीतना चाहेगी। विराट कोहली एंड कंपनी के लिए खुशखबरी यह है कि दोनों ही अभ्यास मैच में जीत मिली और जिन खिलाड़ी की फॉर्म पर सवाल था वह भी दूर हो गया। देखा जाए तो टीम की प्लेइंग-11 लगभग तय हो गई है।
रोहित-राहुल की ओपनिंग
पहले प्रैक्टिस मैच में आराम करने वाले रोहित शर्मा ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ क्रीज पर उतरे और जमकर अपने हाथ खोले। रोहित 41 गेंद पर 5 फोर और 3 सिक्स की मदद से 60 रन बनाकर रिटायर्ड आउट होकर पविलियन लौटे। उनके ओपनर साथी केएल राहुल ने बिना किसी दिक्कत के 39 रन बनाए। दोनों ही ओपनर ने मिचेल स्टार्क, पैट कमिंस, एश्टन एगर, एडम जांपा और केन रिचर्ड्सन को आसानी से खेला और मनमाफिक रन बटोरे। ये दोनों बल्लेबाज कभी भी हड़बड़ी में नहीं दिखे। दोनों ही क्रीज पर वक्त बिताना चाहते थे और यह काम उन्होंने तसल्ली के साथ किया। जब जीत सुनिश्चित हो गई तब अन्य बल्लेबाजों को मौका देने के लिए रोहित पविलियन लौट गए। इस मैच से यह लगभग पक्का हो गया कि ओपनिंग की जिम्मेदारी यही दोनों संभालेंगे।
वरुण दबाव में, भुवी ट्रैक पर
इंग्लैंड के खिलाफ रहस्यमयी स्पिनर वरुण चक्रवर्ती को मैदान पर नहीं उतारा गया था लेकिन यहां वह शुरू से ही मैदान पर दिखे। हालांकि अटैक पर वह 16वें ओवर में आए। स्टोइनिश ने उनका स्वागत चौके के साथ किया। इसके बाद वरुण ने खुद को संभाला और अगली पांच गेंदों पर सिर्फ चार रन दिए। मुकाबले में कप्तानी कर रहे रोहित शर्मा ने उन्हें फिर 19वें ओवर में बुलाया। दबाव में दिख रहे वरुण पर स्टोइनिश ने एक फोर और एक सिक्स के साथ 15 रन बटोर लिए। वरुण प्रभाव नहीं छोड़ सके लेकिन पिछले मैच में लय से भटके नजर आए अनुभवी भुवनेश्वर कुमार इस मुकाबले में ट्रैक पर लौट आए।
मिडल ऑर्डर की लय
पिछले मुकाबले में मौका गंवाने वाले सूर्यकुमार ने अपनी गलती दोहराई नहीं। उन्होंने हर शॉट नाप-तौल कर मारा और टीम मैनेजमेंट के भरोसे को एक बार फिर जीता। वह 27 गेंद पर 38 रन बनाकर मैच फिनिश होने तक क्रीज पर खड़े रहे। टेस्ट हालांकि हार्दिक पंड्या का था, जो अंतिम लम्हों में मैदान पर उतरे। रोहित यदि थोड़ी जल्दी रिटायर्ड आउट होते तो हार्दिक को बैटिंग का और मौका मिलता। लेकिन 8 गेंद की अपनी पारी में ही हार्दिक ने अपना अंदाज दिखाया और रिचर्ड्सन पर सिक्स के साथ मुकाबले को खत्म किया। इन दोनों को लय में देखकर टीम मैनेजमेंट मिडल ऑर्डर की मजबूती से संतुष्ट होगा।
अश्विन ने भी ठोका दावा
प्लेइंग इलेवन में फिलहाल दो स्पिनर की जगह बन रही है और यहां रविंद्र जाडेजा और वरुण चक्रवर्ती टीम मैनेजमेंट की पहली पसंद बताए जा रहे हैं। लेकिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मुकाबले में अपनी धारदार बोलिंग के बाद रविचंद्रन अश्विन ने शुरुआती स्पिन विकल्प में अपना दावा मजबूती से रखा। टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम ने 11 रन तक ही अपने तीन विकेट गंवा दिए। इनमें से दो विकेट अश्विन ने निकाले। अश्विन ने दूसरे ओवर में खराब फॉर्म में जूझ रहे डेविड वॉर्नर (1) और मिचेल मार्श (0) को लगातार गेंदों में पविलियन भेजा।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *