भारतीय सिंधु सभा की गोष्‍ठी, सिंधी समाज को OBC में लाने की मांग

आगरा। भारतीय सिंधु सभा ( Bhartiya sindhu sabha ) के राष्ट्रीय पदाधिकारी उत्तर प्रदेश के दौरे पर निकले और सिंधी बाहुल्य शहरों में बैठक कर सिंधी सभ्यता और संस्कृति का प्रचार प्रसार किया।

सभा के जिला महासचिव किशोर इसरानी ने बताया कि उत्तर प्रदेश के दौरे पर निकले भारतीय सिंधु सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष लधाराम नागवानी, राष्ट्रीय मंत्री अशोक अगनानी, उत्तर प्रदेश के कार्यवाहक अध्यक्ष भगतराम छाबड़ा, डॉक्टर महेंद्र कुमार तीर्थानी आदि ने आगरा के दरेसी स्थित एक होटल में हुई बैठक में समाज के प्रबुद्ध वर्गों के साथ सिंधी समाज के उत्थान पर सामुहिक चर्चा की। इसमें आगरा, टूंडला फिरोजाबाद की सिंधी संस्थाओं के पदाधिकारी और व्यापारियों सहित मथुरा के जिलाध्यक्ष रामचंद्र खत्री तथा उपाध्यक्ष प्रदीप उकरानी के साथ प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया।

राष्ट्रीय अध्यक्ष लधाराम नागवानी ने सिंधु नरेश राजा दाहिर सेन की मूर्ति प्रदेश के सिंधी बाहुल्य शहरों में स्थापित कराने की मांग उठाते हुए कहा कि सिंधु सभ्यता की वाहक भारतीय सिंधु सभा सिंधी बाहुल्य क्षेत्रों महाराष्ट्र, गुजरात ,राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली सहित अन्य प्रांतों में सिंधु सभ्यता के प्रचार प्रसार की दिशा में कार्य कर रही है। उत्तर प्रदेश में भी सिंधी बहुतायत रूप में रहते हैं, इसे ध्यान में रखते हुए भारतीय सिंधु सभा की नई इकाईयां गठित की जाएंगी।

उत्तर प्रदेश के कार्यवाहक अध्यक्ष भगतराम छाबड़ा ने कहा कि सिंधी भाषा की समृद्धि के लिए प्रयास किए जाने की जरुरत है, इसके लिए हमारी आपसी बातचीत में ज्यादा से ज्यादा सिंधी भाषा का उपयोग करें।

राष्ट्रीय मंत्री अशोक अगनानी ने कहा कि हमारी पुरानी पीढ़ी ने समृद्ध सारी विरासत छोड़ी है उसी के पद चिन्हों पर अब नई पीढ़ी को चलना होगा।

सभा के जिलाध्यक्ष रामचंद्र खत्री ने सिंधी समाज को ओबीसी में लाने की वकालत करते हुए कहा कि विभाजन में अपना सबकुछ गंवाने वाले सिंधी समाज ने कभी कुछ मांगा नहीं, लेकिन हमारी नई पीढ़ी ओबीसी में न होने के कारण सरकारी नौकरी या योजनाओं का लाभ नहीं ले पाते, इसलिए सिंधी समाज को ओबीसी कोटे की जरुरत है।

उपाध्यक्ष प्रदीप उकरानी ने कहा कि हर शहर में सिंधी पुस्तकों और साहित्यों की लाइब्रेरी हो जिससे नई पीढ़ी सिंधी संस्कृति को जान सके।

इससे पूर्व भगवान झूलेलाल की छवि के समक्ष दीप प्रज्वलित के उपरांत भारतीय सिंधु सभा के राष्ट्रीय पदाधिकारियों का जोरदार स्वागत और अभिनंदन किया गया।
-एजेंसी

100% LikesVS
0% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *