सुनील शेट्टी बोले, मेरे लिए अब कोई 50 करोड़ रुपए का भी रिस्‍क नहीं लेगा

मुंबई। सुनील शेट्टी ने साल 1992 में ‘बलवान’ फिल्‍म से बॉलीवुड डेब्‍यू किया था। ‘मोहरा’, ‘बॉर्डर’, ‘कांटे’, ‘सपूत’ और ‘हेरा फेरी’ जैसी फिल्‍मों से उन्‍होंने खूब नाम भी कमाया। उनकी छवि पर्दे पर एक एक्‍शन हीरो की बनी। ‘धड़कन’ जैसी सुपरहिट फिल्‍म में वह ग्रे शेड में नजर आए, बावजूद इसके सुनील शेट्टी को मलाल है कि वह अक्षय कुमार, सलमान खान या अजय देवगन की तरह पर्दे पर राज नहीं कर सके। सुनील शेट्टी ने एक हालिया इंटरव्‍यू में अपनी उस गलती को कुबूल किया है, जिसकी वजह से उन्‍हें यह खामियाजा भुगतना पड़ा।
‘एक सुनील शेट्टी था, जो बाद में असफल हो गया’
न्यूज़ एजेंसी IANS से बातचीत में सुनील शेट्टी कहते हैं, ‘एक सुनील शेट्टी था, जो कुछ साल के बाद असफल हो गया क्योंकि वह सब्जेक्ट में विश्वास करता था लेकिन मार्केटिंग में पीछे रहा।’ सुनील शेट्टी मानते हैं कि वह पर्दे पर हमेशा एक नॉन रोमांटिक इमेज के साथ आए। आज टाइगर श्रॉफ और आयुष्‍मान खुराना जैसे न्‍यूकमर्स के बारे में सुनील कहते हैं, ‘यह नई जेनरेशन एक खास तरह के सिनेमा के साथ आगे आई है, लेकिन समय के साथ उन्‍हें भी एक्‍सपेरिमेंट करना पड़ेगा।’
टाइगर और आयुष्‍मान की तारीफ
सुनील शेट्टी दोनों न्‍यूकमर एक्‍टर्स टाइगर-आयुष्‍मान की तारीफ करते हैं। वह कहते हैं, ‘स्‍क्रीन पर एक इमेज बिल्‍ड‍िंग बहुत जरूरी है। ये दोनों ही एक्‍टर निश्‍च‍ित तौर पर अपनी एक इमेज बना चुके हैं। मैं इन दोनों के काम और नाम की बहुत तारीफ करता हूं।’
‘मैंने सेफ प्‍ले करने की कोश‍िश की थी’
सुनील शेट्टी ने आगे अपने करियर की गलती के बारे में बात करते हुए कहा, ‘मेरी समस्या यह नहीं कि मैं टाइपकास्ट हो गया। मेरी समस्या यह रही है कि मैंने हमेशा सेफ प्‍ले करना चाहा। यदि आप सिर्फ कुछ ही लोगों के साथ काम करेंगे या फिर किसी एक डायरेक्टर के साथ, एक बैनर के साथ काम करेंगे तो इसका मतलब यह होता है कि आप में निर्णय लेने की क्षमता नहीं है।’
‘सलमान की तरह खुद का स्‍टाइल बनाना पड़ता है’
सुनील शेट्टी कहते हैं कि यदि आप रिस्‍क नहीं ले रहे हैं, तो आप एक्‍टर नहीं हैं। आपको खुद का स्‍टाइल बनाना पड़ता है। वह कहते हैं, ‘टाइगर को देख‍िए, आयुष्‍मान को लीजिए, सलमान खान को देख‍िए, इन सभी ने अपना रास्‍ता खुद तय किया है। हम सभी सेल्‍फ-मेड हैं। हां, हमने कुछ गलतियां की हैं। लेकिन उसी दौर में अक्षय कुमार और अजय देवगन भी थे, जिनका सितारा खूब चमका।’
‘अक्षय पर 500 करोड़ का भी रिस्‍क ले लेंगे लोग’
सुनील शेट्टी आगे कहते हैं, ‘एक सुनील शेट्टी था, जो कुछ साल के बाद असफल हो गया क्योंकि वह सब्जेक्ट में विश्वास करता था। लेकिन मार्केटिंग में पीछा रहा। मैं यह कहने की कोश‍िश कर रहा हूं कि आज कोई भी सुनील शेट्टी के साथ 50 करोड़ रुपये का भी रिस्‍क नहीं लेना चाहेगा जबकि अक्षय कुमार के साथ वही लोग 500 करोड़ रुपये का भी रिस्‍क ले लेंगे।’
‘बेटे अहान के काम आएंगी मेरी गलतियां’
सुनील शेट्टी कहते हैं कि उन्‍होंने अपनी गलतियों से सीख ली है। वह इसे ठीक भी करना चाहेंगे। वह कहते हैं, ‘शायद मैंने अपनी गलतियों से जो बातें सीखी हैं, वह मेरे बेटे अहान के करियर में काम आएंगी।’ सुनील शेट्टी का बेटा अहान शेट्टी बॉलीवुड में एंट्री के लिए पूरी तरह तैयार है। बीते साल सुनील ने इच्‍छा जताई थी कि यदि धड़कन का रीमेक बने तो वह चाहेंगे कि उसमें अहान शेट्टी हो।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *