राजीव एकेडमी के छात्रों ने किया Varun Beverages का भ्रमण

मथुरा। युवा पीढ़ी के सम्पूर्ण मानसिक विकास के लिए किताबी ज्ञान के अलावा शैक्षिक भ्रमण भी बहुत आवश्यक है। इसी बात को मद्देनजर रखते हुए राजीव एकेडमी फॉर टेक्नोलॉजी एण्ड मैनेजमेंट के बीईकाम और बीएससी (कम्प्यूटर साइंस) के विद्यार्थियों ने गत दिवस कोसीकलां स्थित Varun Beverages लिमिटेड फैक्ट्री का शैक्षिक भ्रमण किया। छात्र-छात्राओं ने वहां Varun Beverages कम्पनी के पदाधिकारियों से पेय पदार्थ के निर्माण और रखरखाव प्रक्रिया पर विस्तार से जानकारी हासिल की। विद्यार्थियों ने फैक्ट्री में पेय पदार्थ प्रोडक्शन यूनिटों का भी अवलोकन किया।

आर.के. एज्यूकेशन हब के अध्यक्ष डा. रामकिशोर अग्रवाल ने इण्डस्ट्रियल भ्रमण को व्यावसायिक कोर्सों के लिए आवश्यक बताया। उन्होंने कहा कि इससे उन्हें व्यावहारिक ज्ञान प्राप्त होता है और स्वयं के ज्ञान के स्तर का मूल्यांकन करने में मदद मिलती है। इण्डस्ट्रियल भ्रमण में विद्यार्थियों को यह पता भी हो जाता है कि कौन सी स्थिति में क्या करना चाहिए जिससे यूनिट में कोई नुकसान न हो सके।

उपाध्यक्ष पंकज अग्रवाल ने कहा कि शैक्षिक भ्रमण गुणवत्तायुक्त शिक्षा का ही एक हिस्सा है। इससे विद्यार्थियों में भविष्य के प्रति सकारात्मक सोच पैदा होती है तथा वे स्वयं समस्या समाधान में समर्थ हो जाते हैं। सच कहें तो शैक्षिक भ्रमण से छात्र-छात्राओं में चिन्तन-मनन का गुण पैदा होता है जो उनके सम्पूर्ण जीवन में काम आता है।

संस्थान के चेयरमैन मनोज अग्रवाल ने कहा कि इण्डस्ट्रियल शैक्षिक भ्रमण से छात्र-छात्राओं का सम्पूर्ण मानसिक विकास होता है तथा पठन पाठन के साथ वह व्यावहारिक रूप से मजबूत हो जाते हैं। इतना ही नहीं शैक्षिक भ्रमण से छात्र-छात्राओं में स्वयं निर्णय लेने की क्षमता का विकास होता है। निदेशक डा. अमर कुमार सक्सेना ने विद्यार्थियों का आह्वान किया कि शैक्षिक भ्रमण में उन्होंने जो भी जानकारी हासिल की है, उसका निरंतर अभ्यास करें।

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *