जी.एल. बजाज में हुआ स्टूडेंट्स एक्सिलेंस एण्ड learning प्रोग्राम

मथुरा। आज की युवा पीढ़ी को वैश्विक चुनौतियों का सामना करने के लिए शिक्षा के साथ-साथ उनमें एकाग्रता और आत्मविश्वास भी जरूरी है। जी.एल. बजाज ग्रुप आफ इंस्टीट्यूशंस द्वारा बी.टेक प्रथम वर्ष के छात्र-छात्राओं को मानसिक रूप से सुदृढ़ करने के लिए स्टूडेंट्स एक्सिलेंस एण्ड learning प्रोग्राम (एसईएलपी) का आयोजन किया गया।

स्टूडेंट्स एक्सिलेंस एण्ड लर्निंग प्रोग्राम का उद्देश्य छात्र-छात्राओं को उनकी सीखने की क्षमता और निर्णय लेने के कौशल को बढ़ाने के लिए सशक्त बनाना है। कालेज प्रबंधन का मानना है कि युवा पीढ़ी की मानसिकता में एक चिरस्थायी परिवर्तन लाने, हर तरह की चुनौतियों से निपटने के साथ-साथ आंतरिक रूप से मजबूत बनाने,  नौकरी के लिए तैयारी करने, अपनी जिम्मेदारियों को पहचानते हुए अपने एवं राष्ट्र के विकास में योगदान करने में ऐसे कार्यक्रमों का विशेष महत्व है।

जी.एल. बजाज के छात्र-छात्राओं को गुरुदेव श्री श्री रविशंकर द्वारा स्थापित आर्ट आफ लिविंग के संकाय सदस्यों रितिम खान तथा स्वाती गुप्ता द्वारा प्रशिक्षण दिया गया। आर्ट आफ लिविंग इंटरनेशनल सेण्टर  बैंगलूरु से आईं स्वाती गुप्ता ने बताया कि गुरुदेव श्री श्री रविशंकर का मानना है कि जब तक हमारे पास तनाव मुक्त दिमाग और हिंसा मुक्त समाज नहीं होगा,  हम विश्व शांति प्राप्त नहीं कर सकते। रितिम खान तथा स्वाती गुप्ता ने समूह प्रक्रियाओं, वार्ता, प्रस्तुतियों के साथ-साथ प्रभावी श्वांस तकनीक, योग, आसन और प्राणायाम के माध्यम से छात्र-छात्राओं को एकाग्रता और आत्मविश्वास बढ़ाने के तौर-तरीकों से अवगत कराया।

आर.के. एज्यूकेशन हब के चेयरमैन डा. रामकिशोर अग्रवाल का कहना है कि जी.एल. बजाज ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस अपने छात्रों को आज के वैश्विक मानकों के अनुकूल बनाने के लिए इस प्रकार के विश्वस्तरीय कार्यक्रमों को लगातार प्रोत्साहित कर रहा है। संस्थान के निदेशक डा. एल.के. त्यागी ने कहा कि युवा पीढ़ी जब तक तनावमुक्त नहीं होगी वह किसी भी क्षेत्र में सफलता हासिल नहीं कर सकती। डा. त्यागी ने बेहतर प्रशिक्षण के लिए आर्ट आफ लिविंग के संकाय सदस्यों रितिम खान तथा स्वाती गुप्ता का आभार माना और उन्हें स्मृति चिह्न भेंटकर संस्थान में पुनः आने का आग्रह किया। कार्यक्रम का संचालन डा. अमित पराशर ने किया।

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *