जबरन ट्रांसफर को लेकर UP Police के दरोगा का अजब व‍िरोध

इटावा। UP Police में आला अफसरों द्वारा बार बार ट्रांसफर क‍िए जाने का मुद्दा प‍िछले कुछ द‍िनों से व‍िवाद का व‍िषय बनता जा रहा है। आज यहां UP Police के एक दरोगा ने जबरन ट्रांसफर का कुछ इस तरह व‍िरोध क‍िया क‍ि उसकी जान पर बन आई। इस दारेगा ने व‍िरोधस्वरूप 65 किलोमीटर का सफर विरोध दौड़ कर पूरा करना चाहा परंतु चंबल के बीहड़ों में बेहोश होकर ग‍िर गया। दौड़ते हुए चंबल के बीहड़ों में 40 किलोमीटर तक दूरी तय की ही थी क‍ि गिरकर बेहोश हो गया।

आननफानन में मौके पर पहुंची संबंधित थाने की पुलिस ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। अब दरोगा की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। इटावा पुलिस लाइन के आर आई के द्वारा थाना बिठौली रवानगी होने से नाराज दरोगा ने विरोध का अजीब तरीका निकाला।

थाना बिठौली 65 किलोमीटर दौड़ का कर जाने का फैसला किया। सुबह 9 बजे से इटावा पुलिस लाइन से दौड़ना शुरू करने के बाद 45 किलोमीटर दूर चंबल के बीहड़ में हनुमंतपुरा में बेहोश होकर गिर पड़ा। मौके पर पहुंची थाने बिठौली की पुलिस ने पुलिस जीप से स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में दरोगा को गंभीर हालत में भर्ती कराया।

डॉक्टरों ने दरोगा की हालत फिलहाल खतरे से बाहर बताई है लेकिन बड़ा सवाल मुख्यालय के आला अधिकारियों को सुबह से ही जानकारी होने के बाद भी दरोगा को रोक क्यों नही गया। जबकि इस बीच रास्ते मे 5 से ज्यादा थाने मिले लेकिन कहीं दारोगा जी को इस अजीब हरकत के लिए रोका नही गया। दरोगा विजय प्रताप का कहना है कि पुलिस लाइन से आर आई ने जबरदस्ती ट्रांसफर कर दिया था। इसलिए उन्होंने थाने दौड़कर जाने का फैसला किया।
– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *