ऑनलाइन कंपनियों के ख‍िलाफ मथुरा के व्यापार‍ियों का जोरदार व‍िरोध प्रदर्शन

मथुरा। अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के राष्ट्रीय अध्यक्ष संदीप बंसल के आह्वान पर आज (15 दिसंबर) ऑनलाइन व्यापार करने वाली कंपनियों की नीतियों के विरुद्ध भारत बंद किया गया, ज‍िसमें मथुरा के व्‍यापारियों ने भी भारी विरोध प्रकट किया। ऑनलाइन कंपनियों से त्रस्त व्यापारी और दुकानदार आज सड़कों पर उतर आए और विरोध में जमकर नारेबाजी कर महानगर के प्रमुख बाज़ार कोतवाली रोड पर जोरदार प्रदर्शन किया। ऑनलाइन कंपनियों से रोजी रोटी का संकट झेल रहे व्यापारियों का गुस्सा सातवें आसमान पर था और वो अमेजन भारत छोड़ो के नारे बुलंद कर रहे थे।

ऑनलाइन कंपनियों के विरोध स्वरूप देशव्यापी अभियान शुरू क‍िए जाने पर राष्ट्रीय अध्यक्ष संदीप बंसल ने सभी व्यापार‍ियों से एक हो जाने का आह्वान करते हुए कहा कि ऑनलाइन कंपनियां देश को आर्थिक रूप से कमजोर बना रहा रही हैं। इन कंपनियों को कर में मिल रही राहत सरकार तुरंत बंद करे।

दुकानदारों के पेट पर लात मारकर हक़ छीन रहीं है विदेशी कम्पनियाँ: मुरारी अग्रवाल

विरोध प्रदर्शन की अगुआई कर रहे व्यापार मंडल के प्रदेश उपाध्यक्ष मुरारी अग्रवाल ने कहा कि ऑनलाइन कंपनियां अपार धन, नकली सामान और झूठे प्रचार के बल पर भारत के सीधे-सादे करोड़ों उपभोक्ताओं से ठगी कर रही हैं जबकि वास्तविकता यह है कि मार्केट में बैठा दुकानदार कम मुनाफे पर सामान बेच कर जैसे-तैसे परिवार का पेट पाल रहा है। इसके अलावा पहले से ही मंदी से जूझ रहे व्यापारियों को ऑनलाइन कंपनियों के फर्जी ऑफर्स ने परेशान कर रखा है।

सड़क से संसद तक संघर्ष करेगा व्यापारी: किशोर भरतिया

जिलाध्यक्ष किशोर भरतिया ने कहा कि विदेशी ऑनलाइन कंपनियों का बहिष्कार किया जाएगा, अभी तो शुरुआत है। ऑनलाइन व्यापार करने वाली कंपनियों के खिलाफ जन जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि देशहित में ऑनलाइन खरीदारी बंद करें। बाजारों में निकले, दुकान से सामान खरीदें। उन्होंने कहा कि देश में एफडीआई इन रिटेल को रोकने के लिए आंदोलन के माध्यम से सरकार पर दबाव बनाएंगे।

प्रदर्शन में जिलाध्यक्ष किशोर भरतिया के साथ जिला महामंत्री नवीन नागर, महानगर अध्यक्ष संजय अल्पाइन, युवा इकाई के जिलाध्यक्ष राजू पंडित, अरुण गौतम (अरविंद चतुर्वेदी, हरदेव चतुर्वेदी, राजकुमार मुकुट वाले, राहुल सिंघल, गुड्डू घी वाले, मुकुंद अग्रवाल, माधव अग्रवाल, बालकिशन चतुर्वेदी, कन्नू सर्राफ, अकील मोहम्मद, राकेश गर्ग, सुल्ले, मुरारी सरन सर्राफ, जितेंद्र सिंघल आदि सैकड़ों की संख्या में व्यापारी शामिल हुए।

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *