20 हजार वर्गफुट में फैले नीरव मोदी के आलीशान बंगले को गिराने की कार्यवाही शुरू

मुंबई। करीब 20 हजार वर्गफुट इलाके में फैले भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी के आलीशान बंगले को गिराने की कार्यवाही शुरू हो गई है। महाराष्‍ट्र के रायगढ़ जिले में अलीबाग बीच के पास बने इस ‘अवैध’ बंगले को तोड़ने के लिए जिला प्रशासन के अधिकारी पहुंच गए हैं। बताया जा रहा है कि बंगला काफी बड़ा है इसलिए इसे पूरी तरह से तोड़ने में कम से कम चार दिन लगेंगे।
बताया जा रहा है कि बंगले को तोड़ने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। बंगले को ढहाने गई टीम का नेतृत्‍व एसडीओ शरद पवार कर रहे हैं। इस बंगले को पहले तत्‍कालीन कलेक्‍टर एसओ सोनावने ने वैध घोषित किया था। बाद में वर्तमान कलेक्‍टर विजय सूर्यवंशी ने इसे अवैध घोषित कर दिया।
बता दें कि 13 हजार करोड़ रुपये के पीएनबी घोटाले के आरोपी नीरव मोदी ने अलीबाग बीच के पास बने इस बंगले में कई भव्‍य पार्टियां दी थीं। इस आलीशान बंगले को हाल ही में कलेक्‍टर ऑफिस ने जांच के बाद अवैध करार दिया था।
सूत्रों ने बताया कि गुरुवार को इस बंगले की सभी मूल्‍यवान वस्‍तुओं को प्रवर्तन निदेशालय ने निकाल लिया और उसे कलेक्‍टर कार्यालय में जमा कराया है।
अलीबाग के तहसीलदार सचिन शेजाल ने गुरुवार को बताया कि ईडी ने इस बंगले से सभी चल संपत्तियों को निकाल लिया। रायगढ़ कलेक्‍ट्रेट के सूत्रों ने बताया कि उन्‍हें ईडी से औपचारिक संदेश मिल गया है और उन्‍होंने बंगले को गिराने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इससे पहले एसडीएम शरद पवार ने बंगले को गिराने के लिए बड़ी-बड़ी मशीनों को बुलाया था। उन्‍होंने बताया कि 20 हजार वर्गफुट में बने इस बंगले को तोड़ने में करीब 4 दिन लग जाएंगे।
प्रशासन ने दी अवैध ढांचे को गिराने की अनुमति
गौरतलब है कि एक महीने पहले ही ईडी ने रायगढ़ जिला प्रशासन को नीरव मोदी के बंगले को गिराने की अनुमति दी थी। वहीं पर्यावरण मंत्री रामदास कदम ने भी राज्य सचिवालय में रायगढ़ के जिलाधीश विजय सूर्यवंशी के साथ तटीय जिले में अवैध बंगलों पर समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करने के बाद इन्हें ध्वस्त करने के आदेश दिए थे।
ईडी के एक सूत्र ने कहा, ‘रायगढ़ प्रशासन ने इस अवैध ढांचे को गिराने की अनुमति मांगी थी और हमने इसकी स्‍वीकृति दे दी थी। यह स्‍वीकृति इस आधार पर दी गई थी कि राज्‍य सरकार को इस बंगले निर्माण में कमियां मिली थीं। साथ ही हाई कोर्ट का आदेश है कि सरकार उन सभी बंगलों को गिराए जो पर्यावरण के नियमों का उल्‍लंघन करके बनाई गई हैं।’ रायगढ़ जिले के अलीबाग में 121 और मुरुद में 151 अवैध बंगले हैं।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *